ऑक्सीजन संकट ने ली फिर 22 कोरोना मरीजों की जान, ऐसे हुई स्वास्थ्य सेवा में लापरवाही

बेंगलुरू। देश में कोरोना कहर के साथ ऑक्सीजन संकट ने लोगों की सांसे रोक दी है। ऑक्सीजन की कमी से प्रतिदिन हजारों लोगों की जान जा रही है। अब कर्नाटक के चमराजानगर जिले के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोरोना के 22 मरीजों की मौत हो गई है। चमराजानगर जिला बेंगलुरु से करीब 175 किलोमीटर दूर है। कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर हालात का जायजा लेने चमराजानगर रवाना हो गए हैं। ऑक्सीजन की कमी थी और पड़ोस के मैसूर जिले से आने वाली ऑक्सीजन भी समय पर नहीं पहुंची। यह हादसा जिले के एक सरकारी अस्पताल में हुआ है। ऑक्सीजन संकट में एक बार व्यवस्था फेल हुई मरीजों की जान चली गयी।
इस हादसे के बाद कर्नाटक सरकार के उस दावे पर एक बार फिर से सवाल खड़े हो रहे हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य में ऑक्सीजन, दवाओं, वैक्सीन और यहां तक की श्मशान घाट में जगह की भी कोई कमी नहीं है।

यह भी पढ़ेंः-कोरोना का कहर: श्मशान में बदल गया यह सरकारी अस्पताल, हुईं इतनी मौतें

ऑक्सीजन अस्पतालों तक नहीं पहुंच पाना जीवन के लिए संकट बन गया है। कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्यों में शामिल कर्नाटक में बेड्स, ऑक्सीजन और दवाओं की कमी के कारण लगातार लोगों की मौत हो रही है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को वरिष्ठ अधिकारियों से बात की है। उन्होंने सभी जरूरी आवश्यकताओं की आपूर्ति का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कैबिनेट की आपात बैठक भी बुलाई है।

रविवार को कर्नाटक में कोरोना वायरस के 37 हजार 733 नए मामले दर्ज हुए हैं। 217 लोगों ने कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया। कर्नाटक की स्थिति भयावह होती जा रही है। इनमें से बेंगलुरु में ही अकेले 21 हजार 149 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में अब तक कोरोना की वजह से 16 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार नहीं हुआ तो मुश्किलें बढ़ जाएगी।

यह भी पढ़ेंः-कोरोना के कोेहराम पर इस अभिनेत्री ने किया तीखा हमला,‘मेरे महबूब कयामत होगी

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,092,598FansLike
5,000FollowersFollow
5,023SubscribersSubscribe

Latest Articles