Homeदेशअब होगा बंगाल बंद....गृह मंत्री और पीएम मोदी से मिलेंगे राज्यपाल

अब होगा बंगाल बंद….गृह मंत्री और पीएम मोदी से मिलेंगे राज्यपाल

- Advertisement -

आम चुनाव के समापन के बाद भी बंगाल में सियासी हिंसा बदस्तूर जारी है। ख़बर आ रही है कि अब इस हिंसा को ध्यान में रखते हुए बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी आज पीएम मोदी सहित गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। इसके साथ ही इस मसले पर उनसे गहन मंत्रणा भी की जाएगी। अब इस हिंसा को लेकर केंद्र सरकार ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बंगाल सरकार को इस हिंसा को लेकर एडवाइजरी जारी किया है। इसके साथ ही इस पूरी हिंसा को लेकर रिपोर्ट भी तलब की है। बंगाल में जारी  इस खूनी हिंसा को लेकर सूबे में सियासत गरमा गई है। अब बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने काला दिवस मनाने का एलान किया है। वहीं, 12 जून को इस हिंसा को ध्यान में रखते हुए एक रैली करने का भी एलान किया है। ये भी पढ़े :पश्चिम बंगाल में दो TMC नेताओं की हत्या ;दो पक्षों में झड़प के बाद तनाव

इसके साथ ही बंगाल में बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय ने ट्वीट कर इस घटना को लेकर कहा कि, ‘बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं को टीएमसी के गुंडे ने संदेशखाली इलाके में गोली मार दी है। बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ हो रही, इस तरह की वारदात के लिए ममता बनर्जी खुद जिम्मेदार है। हम इस पूरी हिंसा की शिकायत गृह मंत्री अमित शाह से करेंगे। वहीं, पश्चिम बंगाल के बीजेपी के प्रमुख ने इस पूरे मामले को लेकर अपना बयान जारी कर कहा कि, ‘ उन्होंने बीजेपी कार्यकर्तायों की हत्या पर दुख जताया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अभी-अभी दु:दख ख़बर के अनुसार पश्चिम बंगाल बशीराहाट लोकसभा के क्षेत्र में तृणमूल के गुंडे ने बीजेपी के तीन कार्यकर्तायों की गोली मारकर हत्या कर दी है। वहीं, इस बीच दावा ये भी किया जा रहा है कि इस पूरी झड़प के दौरान तृणमूल का भी एक कार्यकर्ता मारा गया है। इस सियासी हिंसा को लेकर एक मर्तबा फिर बीजेपी तृणमूल कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। बीजेपी का कहना है कि बंगाल में कानून-व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है।

गौरतलब है कि रविवार को बंगाल में बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद सियासी हिंसा उबाल पर है। बता दें कि बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले मेें बीजेपी के तीन कार्यकर्ताओं ही हत्या कर दी गई थी। बीजेपी का आरोप है कि हमारे पार्टी के तीन कार्यकर्ताओं की हत्या तृणमूल कांग्रेस के गुंडे ने गोली मारकर की है। इस हत्या लेकर मानो बंगाल में रविवार को हिंसा उबाल पर जा पहुंचा था। इसके साथ ही ये हिंसा विकराल रूप उस दौरान धारण करती गई, जब बीजेपी के नेताओं को बंगाल सरकार से ये फरमान जारी कर दिया गया कि वे अपने इन तीन कार्यकर्ताओं का अंतिम संस्कार यहां बंगाल में नहीं कर सकते हैं। बंगाल सरकार के इस फरमान पर बीजेपी नेता खिन्न हो गए और वे अपने इस मांग पर अडिग हो गए कि हम अपने कार्यकर्ताओं का अंतिम संस्कार यहीं बंगाल में ही करेंगे। वहीं, बंगाल के पुलिसकर्मियों ने भी बीजेपी नेताओं को रोका। जिसके चलते दोनों पक्षों के बीच हिंसक झड़पे भी देखने को मिली। बीजेपी कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों से भी भिड़ गए और इस बात की मांग पर अडिग हो गए कि हम अपने कार्यकर्ताओं का अंतिम संस्कार यहीं करेंगे। जिसको लेकर स्थिति दोनों ही पक्षों में विकारल होती चली गई। जिससे चलते बंगाल में मानो पूरे बंगाल में सियासी हिंसा उबाल पर चल रहा है। ये भी पढ़े :अमित शाह तैयार करेंगे अपना ;मेगाप्लान..अब बंगाल में होगा घुसपैठियों का सर्वनाश  

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here