नहीं खुलेंगे सभी स्टेशन और न ही मिलेगा टोकन, दिल्ली मेट्रो में सफर से पहले जान लें ये सख्त नियम

20
metro

देशभर में कोरोना वायरस ने खौफनाक रूप ले लिया है। इस वायरस की चपेट में लाखों लोग आ चुके है तो वहीं, रोजाना हजारों की संख्या में लोग संक्रमित हो रहे है लेकिन इस बीच सरकार भी अब एक-एक करके अनलॉक की गाइडलाइंस जारी कर रही है। सरकार ने शनिवार को अनलॉक 4.0 की गाइडलाइंस जारी कर दी है। जिसमें केंद्र सरकार ने मेट्रो को चलाने की इजाजत दे दी। अनलॉक 4.0 में 7 सितंबर से मेट्रो का संचालन किया जाएगा। लेकिन इसके लिए सरकार ने अब सख्त नियमों का ऐलान भी कर दिया है। जिसका पालन हर एक यात्री को करना होगा। इतना ही नहीं, कोरोना के बीच मेट्रो में क्या बड़े बदलाव आने वाले है। इसकी जानकारी भी सरकार द्वारा दी गई है।

नए नियमों के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो में सफर के लिए टोकन नहीं दिया जाएगा। सभी यात्रियों को अब स्मार्ट कार्ड से ही सफर करना होगा। इतना ही नहीं, पहले की तरह अब हर स्टेशन पर मेट्रो नहीं रुकेगी। मेट्रो कोच में भी यात्रियों की संख्या को तय किया जाएगा। दूसरी तरफ मेट्रो स्टेशन के बाहर थर्मल स्क्रीनिंग और सेनेटाइजर व्यवस्था की जाएगी। ताकि कोरोना के खतरे को कम किया जा सके। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि दोबारा दिल्ली में मेट्रो शुरू हो रही है। एक लंबे अंतराल के बाद हम लगातार सरकार से अपील कर रहे थे कि दिल्ली में मेट्रो को चलाया जाए। ताकि लोगों को सुविधा हो और अब हमने मेट्रो को चलाने की पूरी तैयारी भी कर ली है। जिसमें हम हर चुनौती का सामना कर सकते है।

इसके आगे कैलाश गहलोत ने कहा कि कोरोना की वजह से मेट्रो में टोकन की सुविधा को खत्म कर दिया गया है क्योंकि टोकन देते समय बार-बार सेनेटाइजिंग करना काफी मुश्किल है। इसी वजह से सभी को स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल करना होगा। यात्रियों को मेट्रो में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सख्ती से करना होगा। ट्रेन के कोच के अंदर भी अल्टरनेट सीट पर ही ट्रेवल कर पाएंगे। मेट्रो कोच के अंदर मार्किंग की जाएगी, जिससे ये पता चलेगा कि एक कोच में कितने यात्री सफर कर सकते है साथ ही लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी मेट्रो स्टेशन नहीं खेलो जाएंगे। कुछ ही रूट है जहां पर मेट्रो की सुविधा मिलेगी। जिसकी जानकारी भी जल्द मिल जाएगी।

ये भी पढ़ें:-सर्दियों में बढ़ेगा कोरोना का ग्राफ! WHO ने बताया- इन देशों में बढ़ेगा डेथ रेट