पाकिस्तानी हैकरों की नापाक साजिश, भाजपा महिला नेता को फंसाने के लिए किया ऐसा काम

0
106
hackers

देशभर में कोरोना संकट का दौर अपने चरम पर है, लेकिन ऐसे दौर में भी कंगाल पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है, दरअसल इस बार का जो मामला है वो किसी आंतकी घुसपैठियों का नहीं है, लेकिन इस हरकत के बाद तो पाकिस्तान की कायरता पर सवाल खड़े हो गए हैं. अमूमन पाकिस्तान अपने पालतू आतंकियों को सीमा पर छोड़ देता है. हां ये बात अलग है कि भारतीय सेना उन्हें कफन भी नसीब नहीं होने देती. बहरहाल इस बीच जो मसला है वह पाकिस्तान हैकरों से जुड़ा है. दरअसल जम्मू-कश्मीर में कुपवाड़ा जिले के भाजपा प्रवक्ता मीर बशारत को एक फ्रॉड आईडी से कमेंट कर यह कहा गया कि आपको एक सप्ताह के अंदर मार दिया जाएगा. इसके बाद से इस मैसेज ने सोशल मीडिया पर तूल पकड़ लिया. बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी हैकरों ने भाजपा नेत्री को फंसाने के लिए उनका फोन हैक कर लिया. और फिर तरह-तरह के बेहूदा पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए. वहीं उनकी फेसबुक आईडी का क्लोन बनाकर भाजपा प्रवक्ता की हत्या की साजिश रचने का फर्जी साक्ष्य तैयार कर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया.

ये भी पढ़ें:-कोरोना ब्रेकिंग! पिछले 24 घंटों में आउटब्रेक हुआ वायरस, इन राज्यों में बढ़े मौत के आंकड़े

जानकारी के मुताबिक, कोतवाली इलाके के बैंक रोड  निवासी महिला भाजपा नेत्री डॉ. सीपिका जायसवाल पिछले कुछ महीने से दिल्ली में हैं. उनका कहना है कि 22 जून को कुपवाड़ा जिले के भाजपा प्रवक्ता मीर बशारत को आमिर अब्बास नकवी नाम की फेसबुक आइडी से एक सप्ताह के अंदर जान से मरवाने की धमकी मिली.

महिला का आरोप है कि मेरी फेसबुक आईडी के साथ पाकिस्तानी हैकरों ने छेड़छाड़ की है. इस पूरे मामले पर महिला नेता ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है, उनका दावा है कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.

मीर बशारत ने ट्विटर पर यह जानकारी साझा की और उसमें डॉ. सीपिका जायसवाल के साथ ही पार्टी के अन्य नेताओं को टैग किया.

डॉ. सीपिका ने टेलीफोन पर मीर बशारत से बात करने के बाद उनको जान से मारने की धमकी मिलने की बात फेसबुक पर पोस्ट कर पार्टी के बड़े नेताओं से संज्ञान में लेने का आग्रह किया.

मालूम हो कि भाजपा नेता मीर बशारत ने 27 जून को बताया कि उनके फेसबुक पर एक लड़की का कमेंट आया कि आपको एक्सपोज कर दिया गया है. वहीं इस मैसेज के साथ हैकरों ने एक लिंक भी भेजा था जिसे खोलने पर पता चला कि खुद को पाकिस्तानी बताने वाले आमिर अब्बास नकवी ने उनकी फेसबुक आईडी का क्लोन तैयार कर यह फर्जी अफवाह फैलाई है. इस पूरे मामले में केंद्र सरकार को खबर कर दी गई है. वहीं साइबर क्राइम द्वारा जल्द ही अपराधियों पर शिकंजा कसा जाएगा.

ये भी पढ़ें:-चीन में मिला एक और खतरनाक वायरस, बन सकती है कोरोना से बड़ी महामारी, जानिए लक्षण