गहरी नींद में थे लोग, सुबह 3 बजकर 20 मिनट पर ताश के पत्तों की तरह गिर गई 3 मंजिला इमारत

62
_bhiwandi three-storey building collapsed

सोमवार की सुबह महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई शहर से एक बहुत ही दुखद खबर सामने आई है. जिस वक्त लोग गहरी नींद में थे उसी वक्त भिवंडी में तीन मंजिला इमारत ताश के पत्तों की तरह गिर गई. जिससे 10 लोगों की मौत हो गई. वहीं घटना की सूचना मिलते ही पुलिस और एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, हादसे में अब तक 10 लोगों की मौत की खबर है और 20 लोगों की सुरक्षित निकाला गया है. लेकिन अब भी मलबे में दबे 25 लोगों के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue Operation) चलाया जा रहा है. उम्मीद जताई जा रही है कि ये लोग सुरक्षित बाहर आ सकें.

सुबह 3 बजकर 20 मिनट पर हादसा
घटना की अधिक जानकारी देते हुए थाणे नगर निगम के पीआरओ ने बताया कि सुबह 3 बजकर 20 मिनट पर भिवंडी के पटेल कंपाउंड में दर्दनाक हादसा हुआ. घटना का जो समय है उस वक्त लोग गहरी नींद में थे. ऐसे में ये हादसा और भी दुखद है क्योंकि कई लोग सोते-सोते ही मर गए जिनके शव निकाले गए हैं. लोगों की तलाश के साथ मृतकों की पहचान की जा रही है. जिससे उनके परिजनों को सूचित किया जा सके.

डेंजर लिस्ट में थी बिल्डिंग
पीआरओ की मानें तो, जिलानी अपार्टमेंट, मकान नंबर 69 नामक इमारत 1984 में बनी थी और इसी इमारत का आधा हिस्सा सुबह ढह गया. उनका कहना है कि, इस इमारत को खाली करने के लिए नोटिस भी जारी किया गया था क्योंकि इमारत डेंजर लिस्ट में थी. नोटिस के बाद कुछ लोगों ने बिल्डिंग खाली कर दी थी मगर कुछ लोग नोटिस के बावजूद रह रहे थे. इमारत में 21 परिवार रहते थे.

10 साल पुरानी बिल्डिंग भी ढही
सोमवार की सुबह हुई घटना पर कहा जा रहा है कि पिछले दिनों हुई बारिश से बिल्डिंग कमजोर हो गई थी लेकिन लोगों ने खाली नहीं किया. अगर वह खाली कर देते तो शायद इतना बड़ा हादसा नहीं होता. इससे पहले अगस्त में 10 साल पुरानी पांच मंजिला इमारत गिरने से 50 लोग घायल हो गए थे. यह हादसा महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के महाड में हुआ था.

ये भी पढ़ें- शनिवार को भूलकर भी न करें ये 4 काम, काले रंग के जूतों से हो सकता है भयानक हादसा