मेट्रो मैन ने कहा जीत के साथ सम्भालेंगे सीएम का पद, राज्यपाल में…

shri dharan

दिल्ली। 21 फरवरी को विजय यात्रा के दौरान भाजपा में शामिल होकर राजनीति में कदम रखने जा रहे ई श्रीधरन ने राजनीतिक समीकरण के साथ भविष्य का खाका भी खींच दिया है। उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा है कि उनका मुख्य लक्ष्य केरल में भारतीय जनता पार्टी को सत्ता में लाना है और वह मुख्यमंत्री पद संभालने के लिए तैयार रहेंगे। यदि भाजपा को इस साल अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत मिलती है तो उनका ध्यान बड़े स्तर पर आधारभूत संरचना का विकास करना और राज्य को कर्ज के जाल से निकालना होगा। मेट्रो मैन ने कहा कि अगर पार्टी चाहेगी तो वह विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और पार्टी कहेगी तो मुख्यमंत्री का पद भी संभालेंगे।

यह भी पढ़ेंः-अब भाजपा के हो जाएंगे मेट्रो मैन, उपलब्धियों भरा है जिन्दगी का सफर

श्रीधरन ने कहा कि राज्यपाल पद संभालने में उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है। राज्यपाल पद पूरी तरह संवैधानिक है और इसमें कोई शक्ति नहीं है। ऐसे पद पर रहकर वह राज्य के लिए कोई सकारात्मक योगदान नहीं दे पाएंगे। उन्होंने कहा कि मेरा मुख्य लक्ष्य भाजपा को केरल में सत्ता में लाना है। अगर भाजपा केरल में चुनाव जीतती है तो बड़े स्तर पर आधारभूत संरचना का विकास और राज्य में उद्योगों को लाना शामिल है।

श्रीधरन ने कहा कि कर्ज के जाल में फंसे राज्य की वित्तीय दशा सुधारने के लिए वित्त आयोग का भी गठन किया जाएगा। वर्तमान में राज्य कर्ज के जाल में फंसा है। बहुत सारा उधार है। प्रत्येक मलयाली पर आज 1.2 लाख रुपये का कर्ज है। इसका मतलब है कि हम दिवालिया होने की तरफ बढ़ रहे हैं। सरकार अब भी उधार ले रही है। राज्य की वित्तीय हालत सुधारने की जरूरत है और हम इसका समाधान निकालेंगे। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने पर राज्य की स्थिति में सुधार होगा।

यह भी पढ़ेंः-जब इंटीमेट सीन में बेकाबू हो गए थे विनोद खन्ना, इस हरकत पर फूट-फूटकर रोई थीं डिंपल कपाड़िया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *