ओवैसी पर भड़के महंत नरेंद्र गिरी, ‘हिंदुस्तान में रहना है तो कोर्ट के आदेश का करें पालन’

0
1250
महंत नरेंद्र गिरी_ओवैसी
Loading...

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अयोध्या मामले पर अपना आखिरी फैसला सुनाया। फैसले के बाद पूरे देश ने कोर्ट को शुक्रिया कहा और साथ ही खुशी मनाई। जहां राम मंदिर का रास्ता साफ हुआ तो वहीं कोर्ट ने मुस्लिमों को मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ जमीन देने की बात कही। इस फैसले का हिंदू और मुस्लिम दोनों ने दिल से स्वागत किया। जबकि, AIMIM के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने फिर से विवादित बयान दिया। जिसमें उन्होंने कहा कि, ‘5 एकड़ की खैरात नहीं चाहिए, जीत तथ्यों की नहीं आस्था की हुई है।‘ ओवैसी के इस बयान ने अब तूल पकड़ लिया है। संत समाज में भी इस बयान को लेकर काफी गुस्सा है। ओवैसी के बयान पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने कटाक्ष किया है और कहा है कि, कोर्ट के फैसले को न मानने पर राष्ट्रद्रोह बताया है। वह बोले, ओवैसी भारत और हिंदुओं के खिलाफ हमेशा जहर उगलते रहते हैं। अगर ओवैसी को भारत में अच्छा नहीं लगता है तो उन्हें भारत छोड़कर पाकिस्तान चले जाना चाहिए।

मंहत नरेंद्र गिरी ने ओवैसी को दी कड़ी चेतावनी
गुस्से में महंत नरेंद्र गिरी ने ओवैसी को चेतावनी भी दी है। जिस पर उन्होंने कहा है कि, अगर ओवैसी फिर से इस तरह की विवादित भाषा का उपयोग करेंगे और हिंदुओं और साधु संतों का अपमान करेंगे तो उन्हें बख्शा नहीं किया जाएगा। इस तरह के किसी भी बयान को आगे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वह बोले, अगर AIMIM के नेता असुद्दीन ओवैसी भारत में रहना चाहते हैं उन्हें भारत के संविधान से लेकर न्यायपालिका के हर आदेश को मानना होगा साथ ही पालन करना होगा। अगर ऐसा नहीं करेंगे तो मुंहतोड़ जवाब संत समाज की तरफ से दिया जाएगा। इस दौरान उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि, राम मंदिर निर्माण के लिए सिर्फ हिंदू ही नहीं बल्कि मुस्लिम पक्ष के लोग भी पक्ष में थे। फिर ओवैसी इस तरह की बयानबाजी क्यों कर रहे हैँ? उन्हें अब बख्शा नहीं जाएगा। ये भी पढ़ेंः- सुप्रीम कोर्ट के फैसले से खुश नहीं ओवैसी, बोले- नहीं चाहिए 5 एकड़ की खैरात, आस्था की जीत हुई है

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here