कोरोना से हुई डॉक्टर की मौत, नामी क्लीनिक के फिजिशियन में होती थी गिनती

0
281
doctor

देश में कोरोना महामारी का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है. इस वायरस की वजह से पूरे देश में अब तक कोरोना के 1 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. जबकि 3,583 लोगों की मृत्यु हो चुकी है. वहीं हाल ही में कोरोना के हॉटस्पॉट (Hot Spot) बने मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) में कोविड-19 (Covid-19) के कारण एक और डॉक्टर की मौत हो गई है. शहर के चोइथराम अस्पताल में भर्ती डॉक्टर बीके शर्मा ने बीते गुरुवार को अंतिम सांस ली. डॉक्टर बीके शर्मा शहर के तीसरे ऐसे डॉक्टर हैं, जिनकी कोरोना महामारी की वजह से जान गई है. चोइथराम अस्पताल प्रबंधन ने उनके निधन की पुष्टि की है. उनकी गिनती शहर के सबसे अच्छे फिजिशियनों में मानी जाती थी, उन्होंने इंदौर में पढ़ाई करने के बाद लंदन से डॉक्टर की डिग्री ली थी.

ये भी पढ़ें:-कोरोना महामारी के बीच ऑस्कर ऑवार्ड को लेकर आई ये खबर, लिया जा सकता है बड़ा फैसला

बता दें कि इससे पहले इंदौर शहर में डॉक्टर शत्रुघ्न पंजवानी और आयुर्वेदिक डॉक्टर ओमप्रकाश चौहान का कोरोना के संक्रमण की वजह से निधन हो गया था.

इंदौर में कोरोना का संक्रमण दिनों दिन तेज होता जा रहा है, देर रात जारी एमजीएम मेडिकल कॉलेज के मेडिकल बुलेटिन मुताबिक इंदौर जिले में 76 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. पिछले 24 घंटे में कुल 599 सैंपल की जांच की गई, जिसमें से 521 सैंपल निगेटिव निकले और 76 पॉजिटिव आए. वहीं 61 ऐसे मामले भी सामने आए हैं, जिनमें मरीजों की कोई भी ट्रैवल व कॉन्टेक्ट हिस्ट्री नहीं है.

CORONA

मालूम हो कि इंदौर के जाने माने जनरल फिजीशियन डॉ.बीके शर्मा का राजमोहल्ला में सबसे पुराना क्लीनिक था. 81 साल की उम्र में भी वे कई अस्पतालों में अपनी सेवाएं दे रहे थे. बताया जा रहा है कि इसी दौरान वे किसी संक्रमित मरीज के संपर्क में आ गए, जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ने लगी. पहले उन्हें यलो केटेगरी के अस्पताल में दिखाया गया, लेकिन सेहत में सुधार न होने के चलते उन्हें कोरोना के मरीजों के लिए चयनित रेड केटेगरी के चोइथराम अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उम्र ज्यादा होने की वजह से वे अपने आपको रिकवर नहीं कर पाए और उनकी मौत हो गई.

बहरहाल इसके बाद इंदौर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2850 पर पहुंच गई है. वहीं दो मरीजों की मौत की पुष्टि के बाद अभी तक कोरोना संक्रमण की वजह से मौतों का आंकडा़ 109 हो गया है. जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया के मुताबिक अब तक जिले में 27425 सैंपल की जांच की गई है, जिसमें से 2850 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. जिनमें से 1461 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है. वहीं पूरे देश में कोरोना संक्रमण के केस 1,18,000 तक पहुंच गए हैं, जबकि 3,583 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात करें तो 48,534 लोगों को रिकवर किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें:-कोरोना वायरस से बचने के लिए अक्षय कुमार ने दी मजेदार सलाह, पल-भर में वायरल हुआ पोस्ट