शिव मंदिर में चल रहा था कोरोना को लेकर महामृत्युंजय जाप, तभी नाग की हुई एंट्री, फिर..

62
Snake In Shiv temple

दुनियाभर में कोरोना का खौफ बढ़ता जा रहा है. इस वायरस ने सारे रिकॉर्ड तोड़कर रख दिए हैं. हर दिन देशभर में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. तो वहीं दूसरी तरफ लोग इस वायरस से छुटकारा पाने के लिए नए-नए उपाय का इस्तेमाल कर रहे हैं. कोई भगवान का सहारा ले रहा है तो कोई प्राकृतिक चीजों का सहारा ले रहा है. इसी बीच मध्य प्रदेश से आई एक घटना ने लोगों को हैरान कर दिया है. इस खबर से जितने लोग अचंभित हैं उतने ही ज्यादा दंग भी हैं. किसी को ये समझ नहीं आ रहा है कि आखिर इस बात का क्या संकेत हो सकता है.

ये भी पढ़ें:- शर्मनाक! जेई ने जिंदा सांप को किया आग के हवाले, फिर Video भी किया वायरल

दरअसल हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश के एक शिव मंदिर में चल रहे महामृत्युंजय जाप की, जो कोरोना को खत्म करने के सिलसिले में चल रही थी. तभी अचानक लोगों ने वहां पर कुछ ऐसा देखा जिसने उन्हें हैरानी में डाल दिया. दरअसल जाप के दौरान ही एक नाग अचानक से मंदिर में आया और बिना किसी को कोई नुकसान पहुंचाए पहले नंदी से लिपटा और फिर शिवलिंग में आकर लिपट गया. Snake newsये पूरा वाक्या मध्य प्रदेश के रायसेन जिले का बताया जा रहा है, जहां पर लोगों ने इस नजारे को अपनी आंखों से देखा.

जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में पूरे 2 महीने से कोरोना महामारी की समस्या को दूर करने के लिए शिव मंदिर में जाप किया जा रहा है. इसी बीच शिवालय में सोमवार के दिन 6 फिट लंबा काला सांप लोगों की आंखों के सामने आ गया.Snake news दरअसल इस उदयपुरा में कृषि उपजमंडी में रामेश्वर शिवधाम का निर्माण किया गया है. यहीं पर सचिन कृष्ण शास्त्री की ओर से दो महीने से कोरोना महामारी को लेकर महामृत्युंजय जाप किया जा रहा है.

जाप के दौरान ही मंदिर के शिवालय में काला नाग आया जिसने पहले तो नंदी को लपेटा और फिर शिवलिंग से लिपटा. तब तक जाप लगातार चलता रहा. किसी ने भी बीच में कोई गितविधि नहीं की और अचानक से ही सांप को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी.Snake news इस बारे में बात करते हुए पंडित सचिन कृष्ण शास्त्री ने कहा के ये बहुत ही सिद्ध जगह है, जिस जगह पर नाग शिवालय में पहुंचे और नंदी से काफी देर तक लिपटे रहे. इसके बाद शिवलिंग से लिपटे फिर कुछ देर बाद खुद ही मंदिर से निकले और चले गए.

ये भी पढ़ें:- नाग पंचमी पर सांप को मारना गांव वालों पर पड़ा भारी, बदले की आग में 26 लोगों को डस गई नागिन