Homeदेशमध्य प्रदेशइस प्रदेश में लगाया गया पूर्ण लॉकडाउन, अस्पतालों में बढ़ी बेडों की...

इस प्रदेश में लगाया गया पूर्ण लॉकडाउन, अस्पतालों में बढ़ी बेडों की संख्या

- Advertisement -

कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रकोप को देखते हुए मध्य प्रदेश के सभी शहरी क्षेत्रों में शुक्रवार शाम के 6 बजे से लेकर सोमवार सुबह 6 बजे तक का पूर्ण लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है. ये ऐलान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किया है कि दो दिन तक सभी शहरी क्षेत्रों में लॉकडाउन रहेगा. उन्होंने आगे कहा कि वे ये लॉकडाउन नहीं चाहतें हैं, लेकिन आज के समय की स्थिति को देखते हुए ये फैसला लेना पड़ रहा है. इससे पहले छिंदवाड़ा, शाहजहांपुर के साथ कई अन्य राज्यों में भी लॉकडाउन लगा दिया गया है. तो वहीं पूर्ण लॉकडाउन में भी वैक्सीनेशन का अभियान चलता ही रहेगा.

इसे भी पढ़ें- सर्दी-जुकाम नहीं, अब ये लक्षण दे रहें हैं Corona positive होने के संकेत

अस्पतालों में बढ़ी बिस्तरों की संख्या   

ऐलान के साथ सीएम ने कहा कि बड़े शहरों में कंटेन्मेंट जोन का भी निर्माण किया जाएगा. इन सभी कंटेन्मेंट जोनों में लॉकाडाउन लगा दिया जाएगा. तो वहीं दूसरी ओर सीएम ने ये भी कहा कि सभी राज्यों में अस्पतालों में बेड की संख्या को बढ़ाया गया है, ये संख्या 1 लाख कर दी गयी है. बता दें कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से बीते 48 घंटों में सागर जिले में 4 और खरगोन में एक संक्रमण पीडित की मौत हो चुकी है. इसके बाद सरकार ऑक्सीन की कमी की पूर्ति के लिए भिलाई स्टील प्लांट की बात भी की गयी. अब से हर दिन 60 टन ऑक्सीजन की पूर्ति की जाएगी.,

केवल पांच दिन खुलेंगे दफ्तर

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि जितने भी सरकारी कार्यालय है, वो अब हफ्ते में पांच दिन खोले जाएंगे. इन दफ्तरों को सुबह  10 बजे से शाम 6 बजे तक खोला जाएगा. इसका मतलब है कि रविवार शनिवार ये दफ्तर बंद रहेंगे. वहीं दूसरी ओर राज्य में कोरोना की भयावह कंडीशन को ध्यान में रखते हुए सीएम ने जनता से हर कदम पर जागरूक रहने की बात की और एक ट्वीट भी किया. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि , “महामारी को देखते हुए, फेस मास्क का उपयोग अवश्य करें, सामाजिक दूरी बनाए रखें और हाथों को बार-बार साफ करें.

ये भी पढ़ें-बीजेपी टीम बी के आरोपों पर ओवैसी ने तोड़ी चुप्पी, पीएम मोदी और ममता को बताया एक

 

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here