आए दिन हैरान करने वाले मामले सामने आते है. ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ से सुनने में आया है, जहां एक 35 साल की महिला ने 16 साल के नाबालिग युवक के यौन शोषण (Woman Arrested For Sexual Abuse Of Minor) किया है. ये बात यही पर खत्म ना हुई इसके बाद खुलासा हुआ कि महिला के पति और उसके परिवार ने पीडित लड़के को डरा धमका दिया कि अगर उसने 1 लाख रुपये ना दिए तो वो उसको झूठे आरोपो में फंसा कर केस कर देंगे.

4 लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ केस

रिपोर्ट के अनुसार मामले के खुलासे के बाद पुलिस ने आरोपी महिला, उसके पति और सास-ससुर को अरेस्ट कर लिया है. पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 384 (फिरौती मांगना) और धारा 427 के तहत पति और सास-ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. महिला के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है.

पति ने दी धमकी

राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा ने इस मामले में कहा कि नाबालिग का यौन शोषण महिला द्वारा किया कया है. पीड़ित युवक और आरोपी महिला दोनों एक गांव के ही हैं. इस बात का पता बीते 27 मई को महिला के पति को चला. तो उसने नाबालिग को धमकी देते हुए 1 लाख रुपये की मांग की और ये भी कहा कि अगर पैसे नहीं दिए तो वो उन्हें झूठे केस में फंसा देगा

नाबालिग की उजाड़ी फसल

इसके आगे एसपी ने कहा कि जब पीड़ित नाबालिग के परिजनों ने 1 लाख रुपये देने से इनकार कर दिया तो आरोपी महिला के पति और ससुर ने पीड़ित की फसल उजाड़ दी और उसके पपीते के पेड़ को काट डाला.

घटना के बाद पीड़ित ने चाइल्ड हेल्पलाइन से बात की. बीते सोमवार को काउंसलर मनीष डांगी ने नाबालिग से बातचीत की. डांगी ने इसके आगे कहा कि युवक को बदनामी का डर था. उसने किसी और के साथ इस बात को शेयर नहीं किया. जब महिला के परिवार वालों ने पीड़ित के परिजनों के साथ गलत सुलूक करने लगे, तब उन लोगों ने हेल्पलाइन पर फोन किया. अभी भी उसकी काउंसलिंग हो रही है.

ये भी पढ़ें-मध्यप्रदेश में 3000 जुनियर डाॅक्टरों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, शासन और डाॅक्टरों के बीच यह है मसला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here