Categories
देश

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट का मास्टरमाइंड जसविंदर जर्मनी से गिरफ्तार, निशाने पर थी दिल्ली और मुम्बई

दिल्ली। आतंक के खिलाफ बड़ी सफलता मिली है। लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट मामले के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया गया है। जर्मनी में पुलिस ने प्रतिबंधित संगठन सिख फॉर जस्टिस से जुड़े आतंकी जसविंदर सिंह मुल्तानी को गिरफ्तार किया है। जसविंदर सिंह को ही लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है। जसविंदर सिंह दिल्ली और मुंबई में भी आतंकी हमले करने की साजिश रच रहा था। आतंकी साजिश में उसे गिरफ्तार किया गया है। 45 साल का जसविंदर सिंह एसएफजे के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू का करीबी माना जाता है। जसविंदर पर कथित तौर पर अलगाववादी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप भी है। वह भी सुरक्षा एजेंसियों के निशाने पर है।

जसविंदर सिंह मुल्तानी ने ही सिंघु बॉर्डर पर किसान नेता बलवीर सिंह राजेवाल की हत्या की साजिश रची थी। बलवीर सिंह राजेवाल की हत्या के लिए उसने जीवन सिंह नाम के शख्स को भड़काया था। हत्या के लिए हथियार मध्य प्रदेश से जीवन सिंह को दिया गया था। उससे पहले ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जीवन सिंह को गिरफ्तार कर लिया था। इसी दौरान पहली बार मुल्तानी का नाम किसी केस में स्पेशल सेल के सामने आया था। स्पेशल सेल ने इस बात की जानकारी केंद्रीय एजेंसियों को दी थी। साथ ही किसान नेता राजेवाल को सुरक्षा लेने को भी कहा था।

ज्ञात हो कि लुधियाना कोर्ट परिसर की दूसरी मंजिल पर बनी टॉयलेट में 23 दिसंबर को बम धमाका हुआ था। यह धमाका आईईडी से किया गया था। आईईडी का इस्तेमाल होने की वजह से इसे आतंकी हमला माना जा रहा है। इस धमाके में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। जांच एजेंसियों ने शक जताया था कि जिसकी मौत हुई थी। वही इस धमाके के पीछे है। आशंका जतायी जा रही है कि टॉयलेट में जब वो बम को असेंबल करने की कोशिश कर रहा होगा, तभी विस्फोट हो गया।

यह भी पढ़ेंः-लुधियाना कोर्ट परिसर में ब्लास्ट, दो की मौत-चार घायल, NIA  NSG मौके पर पहुंची