फिर से सोनिया को अध्यक्ष बनाए जाने पर कविराज ने कसा तंज, अब जमकर वायरल हो रहा tweet

336

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को एक मर्तबा फिर सोनिया का सहारा मिला है। जिसे लेकर फिलहाल तो किसी के एतराज सामने नहीं आए हैं, लेकिन जिस तरह से कांग्रेस के 23 वरिष्ठ नेताओं ने पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग करते हुए खत लिखा, उसे देखते हुए राहुल हो चाहे सोनिया या सोनिया हो चाहे प्रियंका सभी का पारा हाई हो गया। राहुल ने तो यहां तक कह दिया कि पार्टी के कुछ नेता बीजेपी से मिले हुए हैं, जिसके तहत यह सब किया जा रहा है। उधर, राहुल के इस वक्तव्य से खफा हुए कपिल सिब्बल सहित गुलाम नबी आजाद ने इस्तीफे तक की पेशकश कर दी। इसके बाद सियासी स्थिति की संवेदनशीलता को भांपते हुए राहुल ने अपने पारे को लो लेवल पर रखा और उन्होने अपने बयान से पलटी मारते हुए कहा कि उनका वो मतलब नहीं था, जैसा निकाला जा रहा है।

ये भी पढ़े :प्रशांत भूषण अवमानना केस में कविराज का बड़ा बयान, बोले-अच्छे से जानता हूं, वो नहीं मांगेंगे माफी

खैर, काफी लंबी और हंगामेदार रही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में इस बात का फैसला किया गया कि अत: मौजूदा समय में पार्टी की कमान सोनिया गांधी के हाथों में ही रहेगी। वहीं आगे की स्थिति की भांपते हुए राहुल को दल की कमान सौंपने की बात कही गई है। पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने भी सामने आकर राहुल गांधी को पूर्णकालिक अध्यक्ष सौंपने की बात कही है, मगर कल कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में जिस तरह से राहुल गांधी का पारा हाई हुआ वह यकीनन चर्चा का पात्र बना रहा।

उधर, जिस तरह कल पूरे दिन कांग्रेस पार्टी में सियासी हंगामा देखने को मिला है, उसे ध्यान में रखते हुए हर मसले को लेकर अपनी बेबाक राय रखने वाले कविराज कुमार विश्वास ने ट्वीट कर व्यंग कसा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘ दिखे यो ना सुधरैं ! अर फेर कहंगे ‘लोकतन्तर ख़तरे में पड़गा’! मका भाई पैले तम तो ल्याओ लोकतंतर अपनी पारटी मै अर्थात लगता है ये नहीं सुधरेंगे। और फिर कहेंगे कि लोकतंत्र खतरे में पड़ गया, पहले अपनी पार्टी में लोकतंत्र को लाएं) फिलहाल तो उनका यह ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। लोग इस पर अपना रिेएक्शन देते हुए नजर आ रहे हैं। खबर लिखे जाने तक उनके इस ट्वीट पर 30 हजार से भी अधिक लाइक्स आ चुके हैं। वहीं, कल पूरे दिन चले कांग्रेस में सियासी हंगामे को मद्देनजर रखते हुए बीजेपी नेताओं ने कहा कि विनाश काले विपरीत बुद्धि। अभी कांग्रेस के विनाश का समय निकट आ चुका है,  इसलिए अब कांग्रेस को अपने ही वरिष्ठ नेताओं पर शक हो रहा है।

ये भी पढ़े :सुशांत केस की सीबीआई जांच पर कांग्रेस नेता संजय निरुपम बोले- घिर गई उद्धव सरकार