संसद में उठा ड्रग मामला, रवि किशन का बयान सुन भड़की जया बच्चन, राज्यसभा में कह डाली ये बात

252
jaya bachchan

सुशांत सिंह राजूपत की मौत के बाद बॉलीवुड इंडस्ट्री में चल रहे बवाल की गूंज संसद में भी सुनाई दी। दरअसल कोरोना काल में संसद का मॉनसून सत्र शुरू किया गया है और मंगलवार को मॉनसून सत्र का दूसरा दिन था। इस दिन समाजवादी पार्टी की सासंद और दिग्गद अभिनेत्री ने राज्यसभा में शून्य काल में नोटिस दिया। इस दौरान जया बच्चन ने अपने नोटिस में कहा कि फिल्म इंडस्ट्री को जानबूझकर बदनाम किया जा रहा है। जया बच्चन ने संसद में कहा कि सरकार को इस ओर भी अपना ध्यान देना चाहिए। क्योंकि अब इंडस्ट्री को इसे बदनाम कर रहे है।

जया बच्चन ने कहा कि, ‘बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश चल रही है। एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री हर रोज 5 लाख लोगों को सीधा रोजगार देती है। देश की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और चीजों से ध्यान हटाने के लिए हमारा इस्तेमाल किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर हम पर निशाना साधा जा रहा है। हमें सरकार से भी समर्थन नहीं मिल रहा है। जिन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री के सहारा ही नाम कमाया है और उन्होंने ही इस गटर कहा। मैं इसका समर्थन नहीं करती हूं।’ इसके आगे जया बच्चन ने कहा कि, मैं उम्मीद करती हूं, जिन लोगों ने इंडस्ट्री से अपना नाम और प्रसिद्धि कमाई, उन्हें सरकार बताए कि वे ऐसी भाषा का इस्तेमाल करना बंद करें।

हालांकि, इससे पहले बीजेपी से सांसद रवि किशन ने भी लोकसभा में फिल्म इंडस्ट्री में चल रहे बवाल का मसला उठाया। इस दौरान उन्होंने सबका ध्यान ड्रग्स ट्रैफिकिंग की और केंद्रीत किया। उन्होंने कहा कि ड्रग्स ने देश का युवा बर्बाद कर दिया और बॉलीवुड में भी इसके बड़े कनेक्शन है। इसी वजह से बॉलीवुड के ड्रग कनेक्शन की गहरी जांच होनी चाहिए। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही बॉलीवुड में बवाल मचा हुआ है। एक्टर की मौत पर सबसे पहले नेपोटिज्म का मुद्दा उठा। तो कई सेलेब्स ने बॉलीवुड इंडस्ट्री पर निशाना साधा। वहीं, अब जैसे ही सुशांत केस में ड्रग कनेक्शन का खुलासा हुआ है। तो सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के ड्रग कनेक्शन की जमकर चर्चा हो रही है। तो वहीं, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो भी इस केस को सुलझाने में लगा है।

ये भी पढ़ें:-ड्रग मामले में फंसने के बाद सारा अली खान की इन तस्वीरों ने मचाया बवाल, जानें क्या है वजह