आप हाथरस में बिजी रहे, उधर भारतीय सुरक्षाबलों को 10 घंटों में मिली बड़ी कामयाबी

375
jammu kashmir encounter today

जम्मू कश्‍मीर (Jammu Kashmir) में भारतीय सुरक्षाबल आतंकियों पर काल बनकर टूट रहे हैं. कोरोना जैसी स्थिति में आतंकी अपनी नापाक चालों से बाज नहीं आ रहे और ऐसे में सुरक्षाबल भी डटे हुए हैं. पिछले 10 घंटों में सुरक्षाबलों के साथ आतंकियों की दो बार मुठभेड़ हुई है. जिसमें 4 आतंकियों को सेना के जवानों ने मौत के घाट उतार दिया है. बताया जा रहा है कि, मुठभेड़ शुरू होने के कुछ ही देर बाद जवानों ने आतंकियों को ढेर कर दिया और शवों को कब्जे में लेकर सारे हथियारों को भी जब्त कर लिया. आतंकियों के पास से गोला-बारूद, एके राइफल सहित अन्‍य हथियार बरामद किए गए हैं और आसपास के इलाकों में सर्च ऑपरेशन चलाया गया.

10 घंटे में दो मुठभेड़
बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों के साथ एक मुठभेड़ पुलवामा जिले के कंगन इलाके स्थित डडूरा गांव में हुई थी और दूसरी कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई थी. इस एनकाउंटर में भारतीय जवानों ने दो आतंकियों को पस्त कर दिया था और जानकारी मिली है कि अब भी इलाके में आतंकवादी छुपे हुए हैं. जिनकी तलाश में पूरे इलाके की घेराबंदी की गई है और सर्च ऑपरेशन जारी है.

मिली जानकारी के मुताबिक सुरक्षाबलों को खुफिया सूचना मिली थी कि कुलगाम जिले के चिंगामा इलाके में कुछ आतंकी छुपे हुए हैं और अपनी नापाक साजिशों को अंजाम देने के फिराक में हैं. इसी जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलो ने स्थानीय पुलिस और सीआरपीएफ की एक टीम के साथ उस जगह का घेराव किया जहां आतंकियों के छुपे होने की सूचना मिली थी. टीम को आता देख आतंकियों ने खुद को बचाने के लिए गोलीबारी शुरू की. जिस पर सुरक्षाबलों ने आत्मसमर्पण करने को कहा मगर आतंकियों ने फायंरिग जारी रखी. इस वजह से दूसरी ओर यानि सुरक्षाबलों के तरफ से भी गोलीबारी शुरू हो गई. जिसमें दो आतंकी ढेर हो गए जबकि तीसरे आतंकी की तलाश की जा रही है. माना जा रहा है कि जिस तरह से फायंरिग हो रही थी उसमें तीन आतंकी शामिल थे और इसी कारण सुरक्षाबलों का तलाशी अभियान जारी है.

बुधवार को भी ढेर हुए तीन आतंकी
मालूम हो कि इससे पहले सुरक्षाबलों ने घाटी के शोपियां जिले में भी तीन आतंकियों को मार गिराने में कामयाबी हासिल की थी. आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ बुधवार देर रात तक चली थी जिसमें तीन आतंकी मारे गए थे. इस बारे में पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया था कि, खुफिया जानकारी के आधार पर ही सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया था जिसमें आतंकी मारे गए.

ये भी पढ़ेंः- आतंकियों की बनाई गुप्त सुरंग का जवानों ने किया पर्दाफाश, ड्रोन से हथियार गिराने की साजिश नाकाम