क्या 1 जुलाई से शुरू हो रही है मेट्रो सेवा? जानें केंद्र सरकार ने क्या लिया फैसला

0
159
metro

कोरोना केस के चलते देशभर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर पूरी तरह से सरकार की ओर से प्रतिबंध लगा दिया था. खासकर मेट्रो और रेल सेवा पर, लेकिन ज्यादा जरूरत पड़ने पर स्पेशल यात्री रेल सेवाओं को शुरू किया गया. लेकिन मेट्रो पर अभी भी सरकार की ओर से प्रतिबंध जारी है. इसी बीच कोलकाता में सीएम ममता बनर्जी की ओर से जुलाई से रेलवे और मेट्रो को चलाने का फैसला लिया गया था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. क्योंकि इस फैसले में केंद्र की बिना मंजूरी के कोलकाता में मेट्रो नहीं दौड़ सकेगी. यानी कि ये बात स्पष्ट हो गई है कि मेट्रो को लेकर केंद्र सरकार ने अभी तक कोई फैसला नहीं किया है.

ये भी पढ़ें:- बड़ी खबर: मेट्रो शुरु होने से पहले जारी हुए सख्त नियम, 1 मेट्रो में महज इतने लोगों को मिलेगी एंट्री

बता दें कि कोरोना के चलते यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है, जिसे देखते हुए पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने राज्य में मेट्रो को अपनी सेवाएं शुरू करने का आदेश दिया था. इसी सिलसिले में मेट्रो के अधिकारियों ने आज सरकारी प्रतिनिधियों से मिलकर बातचीत की. जिसके बाद ये फैसला लिया गया कि बिना केंद्र की मंजूरी दिए मेट्रो सेवाओं को शुरू नहीं किया जा सकता. फिलहाल केंद्र सरकार की ओर से 12 अगस्त तक नियमित ट्रेन सेवाओं पर भी प्रतिबंध लगाया गया है.

इससे पहले राज्य में जिस तरह से कोरोना के केस दोगुने तेजी से बढ़ रहे थे, उसे देखते हुए ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) सरकार ने लॉकडाउन को 31 जुलाई तक के लिए बढ़ाने का आदेश जारी किया था. दरअसल कोरोना वायरस से जुड़े मसलों पर राज्य में एक सर्वदलीय बैठक हुई थी. जिसमें ममता बनर्जी ने ये ऐलान किया था कि 31 जुलाई तक राज्य में ट्रेनें और मेट्रो नहीं चलेंगी. इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही स्कूल और कॉलेजों को भी बंद रखने का आदेश दिया था. गौरतलब है कि इस बार उन्हीं इलाकों में लॉकडाउन की घोषणा की जाएगी, जहां पर कोरोना से जुड़े मामले सबसे ज्यादा होंगे. फिलहाल 30 जून तक लगे लॉकडाउन की भी समय अवधि खत्म होने वाली है. जिसे ‘अनलॉक1’ का नाम दिया गया है.

ये भी पढ़ें:- 12 अगस्त तक कैंसिल ट्रेनों का पैसा लौटाने के लिए रेलवे तैयार, जानें क्या है रिफंड का नियम