Categories
देश

भारतीय जवानों ने तिरंगे के साथ चीनी साजिशों का दिया करारा जवाब, ऐसे शर्मिंदा हुआ CHINA

नई दिल्ली। भारतीय सेना चीन के साजिशों का हमेशा करारा जवाब देती रही है। कभी-कभी पड़ोसी देश चीन कई बार ऐसी हिमाकत कर देता है जिसके लिए उसे शर्मिंदा होना पड़ता है। चीन की हिमाकत का भारतीय सेना ने उसी के अंदाज में जवाब दिया है। चीन की तरफ से की गई भड़काने वाली हरकत के बाद भारतीय सेना ने ड्रैगन को मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारतीय सेना ने नए साल के अवसर पर गलवान घाटी पर तिरंगा फहराया है। घ्वजारोहण की तस्वीरें सेना की तरफ से मंगलवार को जारी की गईं।

भारतीय जांबाजों ने दिया करारा जवाब

भारतीय सैनिकों ने नए साल की पूर्व संध्या के मौके पर तिरंगा फहराया है। भारतीय सेना की ओर से तिरंगा लहराए जाने की खबर ऐसे मौके पर आई है, जब सोशल मीडिया पर चीन द्वारा गलवान घाटी में झंडा, बैनर फहराए जाने की खबरें सामने आई थीं। इससे पहले यह जानकारी आ रही थी कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश के कुछ इलाकों के नए नाम बदल दिये हैं। चीन ने विवादित लैंड बाउंड्री लॉ को लागू किए जाने से पहले यह कदम उठाया था।

चीनी झंडे की तस्वीर वायरल होने पर बढ़ी तल्खी

चीनी सेना की तरफ से गलवान घाटी में अपने देश का राष्ट्रीय झंडा फहराए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद इसको लेकर देश में राजनीतिक विवाद गहरा गया है। गलवान घाटी में चीनी झंडे को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया था। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा था कि गलवान में हमारा तिरंगा ही अच्छा लगता है, चीन को जवाब देना होगा, मोदी जी चुप्पी तोड़ो।

पूरा विवाद एक वीडियो से शुरू हुआ

गलवान में झंडे का पूरा विवाद एक वीडियो से शुरू हुआ, जिसमें चीन की के जवान किसी पहाड़ी इलाके में अपने देश का झंडा फहरा रहे हैं। चीन का राष्ट्रगान भी गा रहे हैं। ये वीडियो चीन के सरकारी मीडिया द्वारा सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया। वीडियो जारी करते हुए यह दावा किया गया कि चीन की सेना ने ये झंडा गलवान घाटी में नए साल के मौके पर फहराया है। हालांकि यह वीडियो काफी पुराना था और भारतीय सीमा के अंदर का नहीं था। ज्ञात हो कि गलवान घाटी लद्दाख का वही इलाका है। जहां 15 जून 2020 को भारतीय सेना और चीन के बीच खूनी झड़प हुई थी। जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे।

यह भी पढ़ेंः-गलवान के वीर कर्नल संतोष बाबू को महावीर चक्र, चीनी सैनिकों को ऐसे दिया था जवाब