अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी (Danish Siddiqui) की निर्मम हत्या कर दी गई. बता दें कि दानिश एक न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के लिए काम करते थे.सूचना मिली है कि दिल्ली के निवासी दानिश सिद्दिकी अफगानिस्तान में वर्तमान समय के हालात को कवर करने के वहां पहुंचे थे. लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि दानिश की हत्या आखिर कैसे हुई और ये किसने की है.

कंधार प्रांत में हुआ ये अपराध

हत्या कंधार प्रांत के स्पिन बोल्डक इलाके में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दिकी (Danish Siddiqui) की हत्या हुई. इसी के साथ बतातें चलें कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद से ही वहां हिंसा का खौफ जारी है. हत्या के वक्त दानिश तालिबान में हो रही जंग को कवर कर रहे थे.

दानिश को मिला था पुलित्जर अवॉर्ड

अपने करियर की शुरुआत दानिश सिद्दिकी (Danish Siddiqui) ने एक टीवी रिपोर्टर के रूप में की थी. इसके बाद वो फोटो जर्नलिस्ट बन गए थे. साल 2018 में दानिश को उनके सहयोगी अदनान आबिदी के साथ पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया था. ये सम्मान दानिश को रोहिंग्या शरणार्थियों के असाधारण कवरेज करने पर मिला था.

इससे पूर्व भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बीते दिन ताशकंद में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात कर युद्धग्रस्त देश से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद वहां तेजी से बिगड़ती हुई स्थिति के बारे में बात की थी.

कंधार में और उसके आसपास भीषण लड़ाई की सूचना

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार दक्षिणी शहर कंधार में और उसके आसपास के इलाको में भीषण लड़ाई होने की सूचना मिली है. तालिबान ने शहर के पास के प्रमुख जिलों पर अपना कब्जा कर लिया है. इसके अतिरिक्त तालिबान द्वारा स्पिन बोल्डक जिले में पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के सीमा से लगे हुए क्षेत्रों पर कब्जा करने के लिए भी बहुत हिंसा की जा रही है.

इसे भी पढ़ें-करीना कपूर का खुलासा – नहीं थी Perfact Mom, बेटे की Potty साफ करने में भी होती थी दिक्कत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here