भारतीय सेना का ब्लैक टॉप पर कब्जा, उखाड़ फेंके चीनी कैमरे और सर्विलांस सिस्टम

837

हर उस कोशिश को चीन अंजाम दे रहा है और हर वो प्लानिंग चीन कर रहा है, जिससे भारतीय जमीन पर अपना कब्जा जमाया जा सके। लेकिन भारतीय सैनिकों के बुद्धिमत्ता और शौर्य के आगे उसकी एक नहीं चल रही है। उसकी हर एक कोशिश नाकाम हो रही है। उसके हर एक मूसबों पर पानी फिर रहा है। उधर, 29 और 30 अगस्त की दरम्यिानी रात को तकरीबन 200 चीनी सैनिक भारतीय सीमा पर घुसपैठ  करने की फिराक में थे, लेकिन भारतीय सेना ने इन सबको खदेड़ दिया। बता दें कि उस वक्त चीनी सैनिक लद्दाख में पैगोंग त्‍सो के दक्षिणी किनारे पहुचंते कि इससे पहले ही भारतीय सेना की स्‍पेशल फ्रंटियर फोर्स (SFF) ने इन्हें उल्टे पांव लौटा दिया।

ये भी पढ़े :चीन की बखिया उधेड़ने की तैयारी में भारतीय सैनिक, भारत के इस कदम से खौफ में ड्रैगन 

इसके साथ ही एसएफएफ ने चीनी की साजिश को नाकाम करते हुए  ब्लैक टॉप पोस्ट पर कब्जा कर लिया है। चीनी सेना के सर्विलांस और कैमरे को हटा दिया गया है। बता दें कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना पर नजर रखने के लिए सर्विलांस और कैमरा तैनात किया था, ताकि भारतीय सैनिकों पर नजर रखी जा सके, लेकिन एसएफएफ ने इन्हें वहां से उखाड़ फेंक दिया और चीनी सैनिकों को रणनीतिक रूप से खदेड़ दिया और फिर इस महत्वपूर्ण पोस्ट पर कब्जा  भी कर लिया।

पहले नहीं था ब्लैक टॉप पर किसी का कब्जा 
यहां पर हम आपको बताते चले कि पैंगाग त्सो झील के दक्षिण किनारे पर स्थित एक चोटी पर कब्जा करने के लिए 29 और 30 अगस्त की रात को घुसपैठ की थी।  ब्लैक टॉप नामक यह चोटी एलएसी के इस तरफ यानी भारतीय सीमा में है। अभी तक तो फिलहाल किसी भी देश का इस पोस्ट पर कब्जा नहीं था, लेकिन अब भारत ने इस पर अपना कब्जा जमा लिया है।

ये भी पढ़े :LAC पर तनाव! घुसपैठ कर रहे चीनीयों को भारतीय सेना ने खदेड़ा, ड्रैगन बौखलाया