आतंकवाद के खात्मे पर भारत ने बढ़ाया पाकिस्तान की तरफ हाथ, लेकिन रखी ये शर्त

0
848

कश्मीर मामले को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव जारी है। जहां एक तरफ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 से आजादी दिलाई है। तो दूसरी तरफ फैसले के डेढ़ महीन बाद भी पाकिस्तान इस पर बौखलाया हुआ है। इस तनाव भरे माहौल में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को आतंकवाद पर नसीहत दी है। इतना ही नहीं, आतंकवाद से निपटने के लिए राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान की तरफ मदद का हाथ भी बढ़ाया है। राजनाथ सिंह ने कहा, अगर वो (पाकिस्तान) आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाते है तो भारत इसमें उनकी मदद करेगा। साथ ही अगर उनकी मदद के लिए पाकिस्तान में सेना भी भेजनी पड़ी। तो भारत ये कदम उठाएगा।

बता दें कि मंगलवार को राजनाथ सिंह चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने पाकिस्तान की मदद करने की बात कही। उन्होंने कहा, मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को सलाह देता हूं कि अगर आप सच में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ना चाहते है तो आपकी मदद के लिए हम तैयार है। अगर इसके लिए सेना को भी भेजना पड़ा। तो हम ये कदम भी उठाएंगे।’

हालांकि इस दौरान राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान की धज्जिड़ा उड़ाने में भी कमी नहीं रखी। राजनाथ सिंह ने अपने भाषण में एक-एक करके पाकिस्तान पर हमला बोला। राजनाथ सिंह ने भाषण में इमरान खान के उस बयान का जिक्र किया। जिसमें इमरान ने कहा था, कश्मीर जरूर आजाद होगा, इस पर हमारी लड़ाई जारी रहेगी। हम आगे भी अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर का मुद्दा उठाएंगे। इस बयान का जिक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने इमरान खान को चेतावनी दी। और कहा, इसके बारे में सोचना भी मत। उठाते रहो इस मुद्दे को, कुछ नहीं होगा। हर पर कोई जवाब नहीं बना सकता। इसके आगे राजनाथ सिंह ने कहा, पाकिस्तान ने 1947 में भारत को दो हिस्सों बांट दिया था। लेकिन 1971 में तुम्हारा देश एक बार फिर दो हिस्सों में बंट गया। अगर यही हाल आगे भी रहा, तो पाकिस्तान दुबारा बंट जाएगा। और इसे बंटने से कोई रोक भी नहीं पाएगा। ये भी पढ़ें:- राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, यदि ऐसा नहीं किया तो पाकिस्तान के होंगे कई टुकड़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here