IMD Rain Alert July

देश के कई राज्यों में मॉनसून (Monsoon 2021) ने दस्तक दे दी है और इसी के साथ लोगों को गर्मी से राहत मिली है। लेकिन उत्तर-भारत में बढ़ते तापमान ने लोगों की दिक्कतें बढ़ा दी हैं। इस बीच भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने राहत की खबर देते हुए बताया है कि, उत्तर-भारत में 3 से 4 डिग्री पारा गिरने का अनुमान है। रविवार को राजधानी दिल्ली (Delhi) में न्यूनतम पारा सामान्य से तीन डिग्री कम, 25.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी की मानें तो अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है।

किन इलाकों में होगी बारिश?
रविवार की सुबह से ही देश के कई क्षेत्रों में बादल छाए हुए हैं और कुछ जगह हल्की से तेज बारिश हो चुकी है। इसी क्रम में मौसम विभाग ने बताया कि, सोमवार और मंगलवार को दिल्ली व पंजाब के कई हिस्सों में हल्की बारिश होने काheavy rain अनुमान है। इस दौरान लोगों को चिलचिलाती धूप से राहत मिलेगी। तो उत्तर प्रदेश, बिहार के नेपाल से सटे हिस्से, बंगाल, झारखंड, ओडिशा में भीषण वर्षा हो सकती है। मौसम विभाग ने इन इलाकों में बिजली गिरने का भी अनुमान लगाया है।

बढ़ता तापमान बना आफत
शनिवार को राजधानी दिल्ली में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई थी। जिससे गर्मी का असर थोड़ा कम हुआ था। मौसम विभाग का कहना है कि धीरे-धीरे मौसम करवट बदल रहा है औरheavy rain and Thunderclap Alert इससे लू का असर कम होना शुरू हो जाएगा। लेकिन गर्मी का असर फिलहाल कुछ वक्त रहेगा। दिल्ली में बारिश की वजह से तापमान में गिरावट आई है लेकिन राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में पारा लगातार चढ़ रहा है।

पर्वतीय इलाकों में मूसलाधार बारिश
मैदान इलाकों में भले ही गर्मी लोगों के लिए आफत बनी हुई है। लेकिन पर्वतीय इलाकों में रुक-रुक कर हो रही बारिश के कारण तापमान में काफी गिरावट देखने को मिली है। कुछ पहाड़ी इलाकों में रविवार को मूसलाधार बारिश हुई है।
राजधानी दिल्ली में बारिश होने के कारण एयर क्वालिटी में सुधार आया है और रविवार को एयर क्वालिटी मध्यम श्रेणी में दर्ज हुई है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के मुताबिक सुबह 8 बजकर 5 मिनट पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 130 था। बता दें, शून्य से 50 के बीच के AQI को अच्छा माना जाता है जबकि 51 से 100 के बीच का AQI संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच का खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब और 401 से 500 के बीच गंभीर श्रेणी में माना जाता है। मगर दिल्ली की हवा में बारिश होने के बाद से सुधार हुआ है।

ये भी पढ़ेंः- इस देश में कोरोना की तीसरी लहर से मचा हाहाकार, एक दिन में सामने आए 26 हजार नए केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here