honeypreet

गुरुग्राम। रेप के मामले में सजायाफ्ता डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम कोरोना की बीमारी का इलाज करा रहा है। तबियत बिगड़ने पर डेरा प्रमुख को सुनारिया जेल से पहले रोहतक पीजीआई लाया गया था अब गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती डेरा प्रमुख राम रहीम से मिलने के लिए सोमवार को हनीप्रीत अस्पताल पहुंची। इस दौरान लोगों की नजर हनीप्रीत पर बनी रही। हनीप्रीत सोमवार सुबह करीब 8.30 बजे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल पहुंची। हनीप्रीत ने राम रहीम के अटेंडेंट के तौर पर अपना कार्ड बनवाया है। अटेंडेंट के तौर पर कार्ड बनवाने के साथ ही हनीप्रीत को प्रतिदिन राम रहीम से मिलने उसके कमरे तक जाने की अनुमति रहेगी। अस्पताल की ओर से बनाया गया यह अटेंडेंट कार्ड 15 जून तक वैध है।

honeypreet baba

डेरा प्रमुख राम रहीम को 9वीं मंजिल पर कमरा नंबर 4643 में रखा गया है। हनीप्रीत ने अपना राम रहीम के अटेंडेंट के रूप में कार्ड बनवाया। हनीप्रीत को बतौर अटेंडेंट कार्ड बनवाने के साथ सीधे मिलने की अनुमति रहेगी। सूत्रों की मानें तो राम रहीम दवा लेने और टेस्ट कराने में भी आनाकानी कर रहा है। वह अस्पताल के कर्मचारियों का सहयोग नहीं कर रहा है। गौरतलब है कि सुनारिया जेल में बंद राम रहीम ने पेट में दर्द की शिकायत की थी। राम रहीम की शिकायत के बाद उसे उपचार के लिए रोहतक पीजीआई ले जाया गया था।

honeypreet 2

रोहतक पीजीआई में उपचार के दौरान उसका सीटी स्कैन, एंजियोग्राफी और फाइब्रोस्कैन कराया गया था। डॉक्टरों ने कुछ और टेस्ट कराने की सलाह दी थी जिसके बाद राम रहीम को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया था। राम रहीम का कोरोना टेस्ट कराया गया था जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरोना रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद इलाज मेदांता अस्पताल में चल रहा है। जानकारी के मुताबिक राम रहीम पहले से ही शुगर और रक्तचाप की बीमारी भी है। राम रहीम का मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा है, जिसकी सख्त सुरक्षा है।

ये भी पढ़ेंः-1 दिन के लिए जेल से बाहर आ चुका है गुरमीत राम रहीम, बिना कोर्ट की इजाजत के मिली थी पैरोल, जानें वजह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here