Harbhajan singh

दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर रहे हरभजन सिंह ने एक नये विवाद में पड़ गये हैं। उन्होंने यह विवाद इंस्टाग्राम स्टोरी शेयर करके पैदा किया है। हरभजन ने 1984 में स्वर्ण मंदिर के अंदर हुए ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान मारे गए खालिस्तानी आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले को शहीद बताया था। हरभजन सिंह की इस पोस्ट के बाद हंगाम शुरू हो गया। हरभजन ने अपनी इस गलती के लिए माफी भी मांग ली थी लेकिन उनके अलावा भी एक खिलाड़ी है जिसने भिंडरावाले का खुल के समर्थन किया है। हरभजन की माफी के बाद मामला बढ़ता ही जा रहा हैै। जहां एक तरफ हरभजन ने अपने ट्वीट के लिए लोगों से माफी मांगी, वहीं दूसरी तरफ आईपीएल में पंजाब किंग्स की ओर से खेलने वाले युवा ऑलराउंडर हरप्रीत बरार ने भिंडरावाले का खुल कर समर्थन किया। हरप्रीत बरार ने इस आतंकी की कही हुई बात को ट्वीट करते हुए उसे याद किया है।

Harprit barar

इस ट्वीट से ये अंदाजा आराम से लगाया जा सकता है कि हरप्रीत पूरी तरह से इस आतंकी के समर्थन में हैं। उसकी विचारधारा का समर्थन किया है। हरभजन सिंह ने खालिस्तानी आतंकी जरनैल सिंह भिंडरावाले को श्रद्धांजलि दी थी। आतंकी का श्रद्धांजलि देने का मतलब है कि आप उसकी विचारधारा का समर्थन करते हैं। भारत सरकार की आपरेशन ब्लू स्टार पर सवाल उठाया जा रहा है।

हरभजन सिंह ने भिंडरावाले को ‘शहीद’ बताने की कोशिश की। ज्ञात हो कि ऑपरेशन ब्लू स्टार को एक जून से 8 जून 1984 तक अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में अंजाम दिया गया था। यह इंडियन आर्मी की ओर से किया गया एक बड़ा मिशन था। खालीस्तानी आतंकियों ने स्वर्ण मंदिर को अपने कब्जे में लिया था। यहीं से आतंकी गतिविधियां शुरू होने की जानकारी मिली थी। तात्कालीन भारत सरकार ने आपरेशन ब्लू स्टार चलाकर स्वर्ण मंदिर को खाली कराया था।

ये भी पढ़ेंः-चहल की पत्नी धनश्री वर्मा ने इंस्टाग्राम पर बयां किया अपना दर्द, कहा- बेहद मुश्किल दौर से

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here