Saturday, January 23, 2021
Home देश पाक की करतूत का बड़ा खुलासा! कश्मीर युवाओं को तालीम सिखाने के...

पाक की करतूत का बड़ा खुलासा! कश्मीर युवाओं को तालीम सिखाने के नाम पर बना रहा आतंकी मोहरा

देश में कोरोना संकट का दौर अपने चरम पर है, लेकिन पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से न पहले बाज़ आता था, और न ही अब आ रहा है. दरअसल खूफिया एजेंसी की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के युवाओं को तालीम सिखाने के बहाने आतंकवादी बना रहा है. जो वाकई हैरान कर देने वाली खबर है. बता दें कि अब तक जम्मू-कश्मीर के 400 छात्रों को पाकिस्तान का वीजा दिया गया है. जिसका इस्तेमाल आतंकी साजिश रचने के लिए कर रहा है. बताया जा रहा है कि पाक दूतावास जम्मू-कश्मीर के युवाओं को गुमराह कर उन्हें अपने यहां तालीम देने के लिए वीजा दे रहा है. इनमें से हाल ही में आतंकी बने तीन युवक को सुरक्षा बलों ने कुछ दिन पहले ही शोपियां में ढ़ेर किया था. सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान की नापाक साजिश है कि किसी तरह से घाटी में अमन-चैन में खलन पैदा की जाए. इसलिए इन युवाओं को आतंकी मोहरा बनाकर साजिश रचने की नई फिराक में है.

ये भी पढ़ें:-अमेरिका ने भी माना भारतीय सुरक्षा एजेंसियों में है दम..पाकिस्तान की जमकर खिंचाई..जारी हुई ये रिपोर्ट

जांच एजेंसियों के सूत्रों का कहना है कि घाटी के कई इलाकों से पाकिस्तान में शिक्षा ग्रहण करने गए छात्रों की जांच पड़ताल की जा रही है. खूफिया रिपोर्ट के मुताबिक ये पता चला है कि पाकिस्तान बड़े स्तर पर घाटी के युवाओं को भड़का रहा है, बॉर्डर पर कड़ी चौकसी की वजह से पाकिस्तानी आईएसआई न तो कश्मीर के युवाओं को अपने यहां बुला

indian-army_

पा रही है और न ही सीमा पार लॉन्चिंग पैड पर तैयार बैठे आतंकियों को भारतीय सीमा में धकेल पा रही है. कहा जा रहा है कि इन युवाओं को सीमा पार कराने के पीछे जम्मू-कश्मीर में बैठे कुछ संगठनों के नेताओं का हाथ है, जो पाकिस्तान के लिए इस काम को अंजाम देते हैं. उनका मकसद ही घाटी में तनाव बढ़ाना है.

sena-1

जांच एजेंसी के अनुसार पाकिस्तानी उच्चायोग की मदद से कश्मीर के युवाओं को पाकिस्तानी विश्वविद्यालयों में दाखिला दिलाने के नाम पर वीजा दिलाया जाता है, जो स्लीपर सेल का काम करते हैं. कश्मीर में मौजूद स्लीपर सेल पाकिस्तानी हैंडलर्स के कहने पर काम करते हैं.

indian-army-kashmir_

ये हैंडलर कोई और नहीं, बल्कि वे कश्मीरी युवक हैं, जो वीजा लेकर पाकिस्तान गए थे. इन युवकों ने कश्मीर में कई छोटे-छोटे संगठन बना लिए हैं जिसका इस्तेमाल हमले के दौरान करते हैं. हालांकि भारतीय सेना की चौकसी इन आतंकियों को ढ़ेर करके ही दम लेती है.

ये भी पढ़ें:-पाकिस्तान: लॉकडाउन के बीच सुरक्षाबलों ने ढेर किए 9 आतंकी, मुठभेड़ में दो सैनिकों की भी मौत

Most Popular