unlock-4 को जारी करने की तैयारी में जुटी सरकार, जानें क्या रहेगा खुला और क्या रहेगा बंद 

354

सड़कों पर विरानगी और जुबां पर खामोशी जैसे दौर से लॉकडाउन के दौरान गुजरना पड़ा। कल-कारखानों से लेकर स्कूल-कॉलेज, व्यवसायिक संस्थान, परिवहन सेवाएं..मतलब यूं समझिए कि कोरोना काल में सब कुछ बंद कर दिया गया। अब जब आहिस्ता-आहिस्ता स्थिति दुरूस्त होती जा रही है और इस जंग से फतह पाने की विधा से हम परिचित हो रहे हैं तो आहिस्ता-आहिस्ता वीरान पड़ चुके गलियारों को गुलजार करने की तैयारी में सरकार जुट चुकी है। हालांकि अनलॉक-3 तक सरकार लागू कर चुकी है,जिसमेंं कई चीजों को खोलने की अनुमति मिल चुकी है। अब समय आ चुका है कि सरकार अनलॉक-4 को लागू करें। फिलहाल सरकार इसकी तैयारी में जुट चुकी है।

माना जा रहा है कि आगामी 1 सितंबर से अनलॉक-4 लागू कर दिया जाएगा। इसमें कई चीजों को खोलने की अनुमति मिल सकती है तो कई चीजें बंद ही रहेंगी। बस कुछ ही दिनों का इंतजार है कि इसके बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय अनलॉक-4 के दिशानिर्देश लागू करेगी। अनलॉक-4 में कई बदलाव किए गए हैं, जो अनलॉक-3 और 2 में नहीं थे, तो चलिए जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर अनलॉक- 4 में क्या-क्या चीजें खोलने की अनुमति मिल सकती है और क्या-क्या चीजें बंद रह सकती है।

पहला: माना जा रहा है कि अनलॉक-4 में स्कूल और कॉलेज को खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

दूसरा: उधर, उम्मीद जताई जा रही है कि बड़े-बड़े शिक्षण संस्थान मसलन, आईआईएम, आईआईटी  जैसे शिक्षण संस्थान खोले जाने की उम्मीद है।

तीसरा: कंटेनमेंट जोन पर पाबंदी रहने की संभावना बनी रहेगी।

चौथा: इस चरण में दिल्ली मेट्रो को खोलने की संभावना जताई जा रही है। इसके लिए दिल्ली मेट्रों अपनी तरफ से पूरी तैयारी भी कर चुकी है।

पांचवा: इस चरण में सिनेमाघरों को खोलने की अनुमति नहीं रहेगी, चूंकि व्यवसायिक हितों को मद्देनजर रखते हुए इनके लिए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना मुश्किल रहेगा।

छठा: अगले महीने सामाजिक, राजनीतिक गतिविधियां, खेलकूद, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम एवं अन्य समागम पर पाबंदी बने रहने की संभावना।

सांतवा: बार संचालकों को शराब बेचने की अनुमित दी जा सकती है। उधर, अंतरराष्ट्रीय उड़ाने और नियमित रेलवे के शुरू करने की फिलहाल कोई संभावना नहीं जताई जा रही है।

ये भी पढ़े :अनलॉक-3: दिल्लीवासियों के लिए खुशखबरी, CM ने साप्ताहिक बाजार और रात के कर्फ्यू पर लिया ये बड़ा फैसला