Monday, December 6, 2021

लखीमपुर हत्याकांड जांच की निगरानी के लिए हाईकोर्ट के पूर्व जज नियुक्त, SIT में तीन IPS शामिल

Must read

- Advertisement -

दिल्ली /लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को लखीमपुर हत्याकांड मामले में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के पूर्व जज जस्टिस राकेश कुमार जैन को मामले की जांच की निगरानी के लिए नियुक्त किया है। कोर्ट ने कहा है कि निष्पक्ष और स्वतंत्र जांच सुनिश्चित करने के लिए यह जरूरी है। तीन IPS अधिकारियों को भी यूपी एसआईटी टीम में शामिल किया गया है। एस बी शिरोडकर, दीपिंदर सिंह और पद्मजा चौहान तीनो आईपीएस अधिकारी हैं। कोर्ट इस मामले में चार्जशीट दाखिल होने और जस्टिस राकेश जैन की रिपोर्ट के बाद सुनवाई करेगा।

- Advertisement -

lakhimpur

पिछली सुनवाई में सरकार को लगाई थी फटकार

लखीमपुर हिंसा मामले में पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को फटकार लगाई थी। कोर्ट ने कहा था कि इस मामले में एसआईटी जांच पर भरोसा नहीं है। ऐसे में जांच की निगरानी के लिए एक हाईकोर्ट के जज की नियुक्ति की जरूरत है। कोर्ट ने कहा कि निष्पक्ष जांच जरूरी है। साथ ही कोर्ट ने कहा था कि हमें यह कहते हुए दुख हो रहा है कि प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि एक विशेष आरोपी को 2 एफआईआर में ओवरलैप करके लाभ दिया जा रहा है। आरोपी के बचाव में सबूत जुटाए जा रहे हैं।

lakhimpur

चीफ जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की पीठ ने लखीमपुर मामले की सुनवाई की थी। बेंच ने कहा था, एसआईटी जो इस मामले की जांच कर रही है वो दोनों एफआईआर के बीच अंतर नही कर पा रही है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दोनों एफआईआर की अलग-अलग जांच होनी चाहिए। अलग-अलग ही चार्जशीट दाखिल होनी चाहिए। दोनों एफआईआर में किसी तरह का घालमेल ना हो। जांच किसी भी स्थिति में निष्पक्ष होनी चाहिए।

यह भी पढ़ेंः-लखीमपुर की जीप में भाजपा का पराजय जुलूस निकालेगी जनता : अखिलेश यादव

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article