फारुख अब्दुल्ला ने पाकिस्तान को सुनाई खरी-खोटी, कहा- हम किसी के हाथ की कठपुतली नहीं…

366
pak

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले साल ही जम्मू कश्मीर पर एक ऐतिहासिक फैसला लिया था। पीएम मोदी की सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हमेशा के लिए हटा दिया और जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया। जिसके बाद अब घाटी के लगभग छह राजनीति दल सरकार के इस फैसले के खिलाफ खड़े हो रहे है। इन राजनीतिक दलों ने एक घोषणापत्र भी निकाला। जिसकी पाकिस्तान ने जमकर तारीफ की है। पाकिस्तान ने इन राजनीतिक दलों के इस कदम की सहारना की है। जिस पर अब नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला का बयान आया है। इस दौरान फारुक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान को जमकर तलाड़ा है।

दरअसल हाल ही में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का एक बयान सामने आया। इस बयान में पाक विदेश मंत्री ने कहा था कि नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Congress), पीडीपी (PDP), कांग्रेस (Congress) समेत तीन अन्य दलों ने मिलकर जो घोषणापत्र जारी किया है वह कोई सामान्य घटना नहीं है बल्कि अहम घटनाक्रम है। पाकिस्तान के इसी बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया सामने आई है। अपने बयान में उन्होंने कहा कि वे किसी के हाथों की कठपुतली नहीं हैं। पाकिस्तान ने हमेशा जम्मू-कश्मीर की मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों (Political Parties) का अपमान किया है लेकिन अब अचानक वह हमें पसंद करने लगे हैं।

बता दें कि फारुख अब्दुल्ला ने हाल ही में श्रीनगर से पीटीआई-भाषा से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम किसी के हाथ की कठपुतली नहीं है न ही तो हम दिल्ली के और न ही हम सीमा पार के है। हम सिर्फ जम्मू-कश्मीर की जनता के प्रति जवाबदेह है और उनके लिए काम करेंगे। इसके आगे उन्होंने कहा कि, ‘मैं पाकिस्तान से हथियारबंद लोगों को कश्मीर भेजने से रोकने का आग्रह करुंगा। हम अपने राज्य के रक्तपात को समाप्त करना चाहते है। जम्मू कश्मीर के सभी राजनीतिक दल अपने अधिकारों के लिए शांतिपूर्ण ढंग से लड़ाई के लिए प्रतिबद्ध है इसमें वह भी शामिल है जो पिछले साल पांच अगस्त को असंवैधानिक रूप से हमसे छिन लिया गया था।’

ये भी पढ़ें:-यूट्यूबर हीर खान का निकला पाकिस्तानी कनेक्शन, हिंदू देवी-देवताओं पर की थी अशोभनीय टिप्पणी