‘चीन की मदद से J&K में दोबारा 370 लागू करने की उम्मीद’, फारूक अब्दुल्ला के विवादित बयान से मची सनसनी

216
Farooq Abdullah

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) से हटे अनुच्छेद 370 (Article 370) और 35 A (35 A) के बाद से ही वहां के नेता बौखलाए हुए हैं. इन आर्टिकल के खत्म होने के बाद से ही विपक्षी पार्टियां लगातार मौजूदा सरकार पर हमलावर रही हैं. इसी बीच जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुला (Farooq Abdula) ने फिर से रविवार को एक विवादित बयान दिया है. उन्होंने अपने हालिया बयान में ऐसी बात कह दी है जिसे सुनने के बाद आपके भी पैरो तले जमीन खिसक जाएगी. जी हां ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि इस समय जिससे भारत लगातार जूझ रहा है और तनाव के हालात को कम करने की कोशिश कर रहा है, उससे अब्दुल्ला साहब काफी सारी उम्मीदें लगाए बैठे हैं.

ये भी पढ़ें:- चीन से तनाव के बीच भारत के समर्थन में अमेरिका का बड़ा बयान, ड्रैगन को दी ये सख्त चेतावनी

दरअसल हाल ही में बयान देते हुए फारूख अब्दुल्ला ने कहा है कि, चीन के सपोर्ट से जम्मू-कश्मीर में फिर से अनुच्छेद 370 को लागू किया जाएगा. हालांकि ये पहली बार नहीं है जब वो जम्मू-कश्मीर में फिर से अनुच्छेद 370 और 35 ए को दोबारा से लागू करवाने का राग अलापते रहे हैं, लेकिन इस बार उन्होंने सारी हदें ही पार कर दी है. जो दुश्मन लगातार भारत के खिलाफ घात लगाए बैठा है उसका समर्थन फारूख अब्दुल्ला भारत के आंतरिक मामलों में लेने का दावा कर रहे हैं.

आपको बता दें कि फारूख चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को फिर से राज्य का दर्जा प्राप्त हो जाए और इसके लिए वो लगातार अड़िग हैं. यहां तक कि संसद के मानसून सत्र में उन्होंने पांच अगस्त 2019 से पहले की स्थिति बहाल करने की मांग की थी. उस दौरान फारूक की ओर से ये बात कही गई थी कि, कश्मीर में जो स्थिति है उसे बताने के लिए हमने संसद भवन में समय मांगा था. लेकिन हमें इसके लिए वक्त ही नहीं दिया गया. इसलिए देश के नागरिकों को ये तो जानकारी हाथ लगे कि आखिर लोग किस तरह से यहां जी रहे हैं. साथ ही ये भी पता लगे कि यहां के हालात क्या है? क्या वाकई बाकी मुल्क के साथ वो आगे बढ़े हैं या पीछे रह गए हैं?

ये भी पढ़ें:-  अमित शाह ने किया फारूख अब्दुल्ला के झूठ का खुलासा, कहा-वो तो मजे में हैं