दिल्ली को दहलाने की साजिश नाकाम, अबू यूसुफ पर हुआ सनसनीखेज खुलासा

87

दहल जाती दिल्ली अगर नहीं होता अबू सलेम गिरफ्तार। खाक हो चुकी होती राजधानी की गलियां अगर नहीं होता अबू यूसुफ गिरफ्तार। आज जिन गलियों हम और आप अमन से बैठे हैं, उसी अमन का दुश्मन बन चुका था अबू यूसुफ। जेहादी मानसिकता का शिकार हो चुका यूसुफ दिल्ली को दहलाने की पूरी पटकथा लिख चुका था। वो यह सब कुछ अंततराष्ट्रीय बिरादरी में सुर्खियों हासिल करने के लिए कर रहा था। वो चाहता था कि आईएस में उसकी मौजूदगी दर्ज हो। इसके लिए उसने दिल्ली को खाक करने के लिए चुना था। उसका कहना था कि दिल्ली को दहलाने के बाद उसे इससे भी बड़े टास्क दिए जाएंगे और तो और खुलासे तो यहां तक भी हुए कि वो इस हमले के बाद वह कई नेताओं को भी ठिकाने लागना चाहता था।

ये भी पढ़े :खौफनाक खुलासा: शहर को दहलाने के बाद नेताओं को ठिकाने लगाने की तैयारी में था अबू यूसुफ

इसके लिए उसने पूरी तैयारी शुरू कर दी थी। इस बीच कई ऐसे शख्स भी सामने आ रहे हैं, जो बीते कुछ दिनों से लगातार उसके संपर्क में बने हुए थे। जांच में खुलासा हुआ है वो तबाही मचाने के लिए जिस बाइक का इस्तेमाल करना चाहता था उसे बहुत ही सोच समझकर इस्तेमाल करने का प्लान बनाया गया था। इस दौरान कई ऐसे युवकों से भी पूछताछ की गई है, जो पिछले कुछ दिनों से उसके संपर्क में बने हुए थे। इस संदर्भ में स्पेशल सेल के एक अधिकारी ने अपने ट्विटर हैंडल में जानकारी देते हुए कहा कि आईएस ने उसे निर्देश दिए हैं कि वो दिल्ली में धमाके करें, ताकि अंतरराष्ट्रीय स्तर में उसका नाम हो और आईएस में उसकी उपस्थिति दर्ज हो सके।

इतना ही नहीं, उसे यह फरमान भी जारी किया गया था कि अगर वह राजधानी दिल्ली को दहलाने में कामयाब रहता है तो फिर उसे इससे भी बड़े टास्ट दिए जाएंगे। बता दें कि आईएस ने इससे पहले बांग्लादेश की राजधानी ढाका और फ्रांस की राजधानी पेरिस में भी हमला करवाकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। अबू यूसुफ चाहता था कि वो किसी भी कीमत पर राजधानी दिल्ली को दहलाने में सफल रहे, मगर उसकी यह कोशिश नाकाम रही और वो धौलाकुआं के रिंज रोज में पुलिस एनकाउंटर के दौरान पुलिस की गिरफ्त में आ गया।

अबू यूसुफ के बारे में स्पेशल सेल के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि यूसुफ बलरामपुर स्थित अपने घर से सीधा लखनऊ गया था। इसके बाद लखनऊ से सीधा दिल्ली आ गया। दिल्ली आने के बाद किसी साथी ने इसे दो बाइक दी। यह बाइक चोरी के थे। दोनों तरफ के नंबर मिटे हुए थे। फिलहल तो पुलिस इस बात की जांच में जुटी है कि आखिर बाइक कहां से चोरी की गई है? फिलहाल पुलिस अबू यूसुफ से पूछताछ कर रही है। पूछताछ के दरम्यिान लगातार ऐसे खलासे हो रहे हैं, जिसे सुन पुलिस के कान खड़े हो रहे हैं।

ये भी पढ़े :ISI आतंकी अबु यूसुफ़ के घर बरामद हुई बम विस्फोटक सामग्री, यहां-यहां की थी धमाके की तैयारी