rohini court

दिल्ली। रोहिणी कोर्ट में पेशी के लिए लाये गये बदमाश की गोलीबारी में हुई गैंगेस्टर की मौत के बाद राजधानी में सनसनी फैल गई। दिनदहाड़े कोर्ट परिसर में हुए शूटआउट से पुलिस अधिकारी भी सकते में हैं। जज के सामने हुई गोलीबारी की यह सबसे बड़ी दुस्साहसिक वारदात है। फायरिंग के दौरान कुख्यात गोगी गैंग का सरगना जितेंद्र गोगी मारा गया है। गोलीबारी में गोगी के मारे जाने के दौरान जवाबी फायरिंग में दो बदमाश भी मारे गये हैं। इस मामले में अब दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना का बयान भी सामने आया है। उन्होंने कहा कि जब गैंगस्टर गोगी को कोर्ट में सुनवाई के लिए ले जाया गया तो दो अपराधियों ने उस पर गोलियां चलाईं। गोगी के कोर्ट रूम में पहुंचते ही फायरिंग शुरू हो गयी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में दोनों हमलावरों को मार गिराया है। उनमें से एक हमलावर पर 50 हजार रुपये का इनाम था। ज्ञात हो कि इस घटना से कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया. गोलियों की आवाज के बीच अदालत में लोग इधर-उधर भागने लगे। पुलिस के जवानों ने भी आम लोगों और कोर्ट में आए फरियादियों को सुरक्षित करते हुए फायरिंग का जवाब देते हुए दोनों हमलावरों को ढेर कर दिया। भीड़ के कारण हमलावर मौका भी तलाशने की कोशिश किये लेकिन सीधी फायरिंग में उन्हें ढेर कर दिया गया।

रोहिणी कोर्ट परिसर सील

रोहिणी के डीसीपी प्रणव तयाल ने बताया कि हमलावर वकील का ड्रेस पहनकर कोर्ट परिसर में आए थे। वह भीड़ का फायदा उठाना चाहते थे। उन्होंने गोगी पर कई गोलियां चलाई जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की और दो बदमाश मारे गये। कोर्ट परिसर में अचानक गोलियां चलने से भगदड़ जैसी स्थिति मच गई और लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। इस दौरान एक महिला वकील भी घायल हो गई। रोहिणी कोर्ट परिसर में गोलीबारी के बाद परिसर को पूरी तरह सील कर दिया गया है और दिल्ली पुलिस के जवान मौके पर मौजूद हैं।

वकील की ड्रेस पहनकर आए थे आरोपी

कोर्ट परिसर में फायरिंग की घटना के बाद पुलिस ने बताया कि गोगी गैंग के सरगना के ऊपर फायरिंग करने वाले बदमाश वकील की ड्रेस पहनकर अदालत पहुंचे थे। किसी को उनके खतरनाक इरादों पर शक न हो, इसके लिए बदमाशों ने काले लिबास का फायदा उठाया। कोर्ट में जैसे ही जितेंद्र गोगी पहुंचा, बदमाशों ने उस पर फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगते ही जितेंद्र गंभीर रूप से जख्मी हो गया। गोगी को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक फायरिंग में 50 हजार रुपए के इनामी बदमाश राहुल समेत एक और बदमाश ढेर हो गया।

ऐसी थी जितेंद्र  की दहशत

गैंगेस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी जिसे बदमाशों ने कोर्ट रूम में गोली मार दी वो तिहाड़ जेल में बंद था। 2020 में गोगी की गिरफ्तारी के बाद भारी मात्रा में गोलियां और असलहे बरामद हुए थे। गोगी पर दिल्ली में चार लाख और हरियाणा में 2 लाख का इनाम घोषित था। चर्चित हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता मर्डर केस में भी जितेंद्र उर्फ गोगी की संलिप्तता सामने आई थी। इसके पास से 6 ऑटोमेटिक विदेशी पिस्टल, 70 से अधिक जिंदा कारतूस, पश्चिम विहार से लूटी गई एक कार बरामद की गई थी। नरेला में आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान को गोगी गैंग के लोगों ने ही 26 गोलियां मारी थीं। 2018 में दिल्ली के बुराड़ी में टिल्लू गैंग से गोगी का गैंगवार हुआ था, जिसमें 3 लोगों की हत्या हुई थी और 5 लोग घायल हुए थे।

यह भी पढ़ेंः-रोहिणी कोर्ट में जज के सामने गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या, दो बदमाश ऐसे हुए ढेर