पाकिस्तान से आया CRPF महिला सिपाही को फोन, बोला- तैयार हो क्या? मुंहमांगी कीमत मिलेगी 

0
598

इस बात की तस्दीक खुद इतिहास करता है कि जब-जब पाकिस्तान ने भारत से प्रतिशोध लेने के लिए हिंसका रूख अख्तियार किया, उसका खामियाजा उसे खुद ही भुगतना पड़ा है। अब चिंताजनक मामला सामने आया है, जिसमें सीआरपीएफ की एक महिला सिपाही को पाकिस्तान के कराची से फोन आया है और एकाएक फोन करने वाले ने, जो कहा… वो वाकई में हैरान करने वाला था। पहले तो उस फोन करने वाले ने कहा कि हम तुम्हारे बारे में सब जानते हैं। तुम्हारा नाम। तुम्हारा काम। तुम्हारा पता। अब तुम ये बताओ काम करने के लिए तैयार हो? इसके लिए तुम्हें मुंहमांगी कीमत मिलेगी।

ये भी पढ़े :जम्मू-कश्मीर में लगातार फायरिंग के बाद सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, जिंदा गिरफ्तार किया गया हिजबुल आतंकी

इतना ही नहीं, महिला सिपाही को हैरत तो उस समय हुई, जब फोन करने वाले शख्स ने कहा कि हमें सब मालूम है। तुम यूपी की रहने वाली हो। फोन करने वाले शख्स ने महिला सिपाही के सामने प्रस्ताव रखते हुए कहा कि अगर तुम अपने फोर्स और कैंपस के बारे में जानकारी दो, तो तुम्हें मुंह मांगी कीमत मिलेगी। फोन काटने से पहले वो शख्स कहता है कि अभी हम नहीं बता रहे हैं। पहले तुम अपना डिमांड बताओ। इसके बाद फौरन उस महिला सिपाही ने  इसकी शिकायत सीआरपीएफ को कर दी। सीआरपीएफ ने इसकी शिकायत फौरन दिल्ली पुलिस से की है। बता दें कि यह पूरा मामला राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ गया है। इसलिए अब इसे इंदिरा पुलिस स्टेशन को भेज दिया गया है।

वहीं इस पूरे प्रकरण को लेकर दिल्ली पुलिस का कहना है कि सीआरपीएफ की महिला सिपाही दिल्ली आर्म्ड पुलिस ‘डीएपी’ के विकासपुरी स्थित कैंपस में संतरी की ड्यूटी पर थी। दो दिन पहले उसके पास 923055752119 नंबर से व्हाट्सएप कॉल आई। देखिए…आपसे बात करनी है। आपको लॉटरी के बारे में कुछ बताना है। देखो.. फोन मत काटो। हम आपको और भी दूसरी बेनिफिट देंगे। बस आप हमें अपने कैंप और फोर्स में चल रही सारी जानकारी दो। आपको इस काम के लिए मुंहमांगी कीमत मिलेगी। फोन करने वाले शख्स ने कहा कि अभी हम तुम्हें कोई काम नहीं दे रहे हैं। पहले तुम अपनी कीमत बताओ।

बहरहाल अब इस पूरे मामले को दिल्ली पुलिस को भेज दिया गया है। दिल्ली पुलिस इसकी गहन तफ्तीश में जुट चुकी है। गौरतलब है कि बीते दिनों सेना ने अपने सभी कर्मियों को अपने वाट्सएप की सेटिंग बदलने के लिए कहा गया था। ऐसा करने से कोई भी पाकिस्तानी जासूस अपने आपको जोड़ नहीं पाएगा। ऐसा कदम भारतीय सेना ने राष्ट्रीय सुरक्षा के दृष्टिगत उठाया था।

ये भी पढ़े :भारत के लाख विरोध के बाद भी पाकिस्तान कर रहा अपनी मनमानी, अब इस काम को देने जा रहा अंजाम