BJP के इस कदम से खौफ में आ गए सारे शिवसैनिक, मुश्किल में ठाकरे सरकार! 

2061

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे अब मुश्किल में आ गए हैंं और वजह बनी है वो पार्टी, जो कभी शिवसेना की हमदर्द रही, जो कभी शिवसेना के साथ उठती-बैठती रही। पुरानी राजदार रही, लेकिन अब सारे रिश्ते नाते भुलाकर अब इसी साथी ने शिवसेना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। खैर, इसका अंजाम क्या रहेगा। यह तो फिलहाल कहना मुश्किल है , लेकिन एक बात तो आईने की तरह साफ है कि बीजेपी के इस कदम से अब शिवसेना वाले खतरे में गए हैं। आखिर आए भी क्यों न! क्योंकि एक नहीं दो नहीं बल्कि 8-8 घटनाओं का सहारा लेकर बीजेपी मानवाधिकार आयोग के चौखट पर दस्तक दे चुकी है। अब ऐसी स्थिति में माना जा रहा है कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग शिवसेना के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर सकती है। ये भी पढ़े :Video: कंगना रनौत की मां ने चंडी रूप में लगाई शिवसेना की क्लास, किया धमाकेदार ट्वीट

यहां पर हम आपको बताते चले कि शिवसेना के खिलाफ भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे के नेतृत्व में महाराष्ट्र के राज्यसभा सदस्यों ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस एचएल दत्तू को शिकायत दी। अपने इस शिकायत पत्र में बीजेपी शिवसेना पर खूब बरसती हुई नजर आ रही है। कुल आठ घटनाओं का सहारा लेकर यूं समझिए की बीजेपी ने शिवसेना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बीजेपी ने अपने शिकायत पत्र में कहा है कि दिसंबर 2019 के बाद से राज्य में मानवाधिकार उल्लंघन की कई घटनाएं घटी हुई है। यह बेलगाम होती जा रही है। इस पर अंकुश के आसार दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहे हैं।

शिकायत पत्र में 23 दिसंबर 2019 की उस घटना का भी जिक्र किया गया, जिसमें उद्धव ठाकरे के खिलाफ सोशल मीडिया पर कमेंट किया तो शिवसैनिकों ने उन पर हमला कर दिया। शिवसैनिको ने हमला करते हुए बाल तक मुड़वा दिए थे। इतना ही नहीं, शिकायत पत्र में पालघर की घटनाओं का भी जिक्र किया गया जिसमें निहत्थे साधु को उन्मादी भीड़ ने मौत के घाट उतार दिया था। ये भी पढ़े :नौसेना के पूर्व अधिकारी से मारपीट मामले में शिवसेना नेता समेत 4 हुए गिरफ्तार, तो कंगना ने कह डाली ये बात