कोयला तस्करी मामला : सीबीआई ने अभिषेक बनर्जी को थमाया समन, ये की कार्रवाई

avishek banarji

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सीबीआई ने रविवार को बड़ी कार्रवाई की है। कोलकाता में कोयला तस्करी मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो की टीम रविवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के घर पहुंची है। कोयला घोटाले के मामले में अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को समन देने के लिए सीबीआई की टीम उनके घर पहुंची है। अभिषेक बनर्जी की पत्नी को सीबीआई टीम ने रविवार को ही पूछताछ में शामिल होने का नोटिस दिया है। कोयला घोटाला के केस में जांच एजेंसी पहले से ही अभिषेक बनर्जी के कई करीबियों के खिलाफ छापेमारी कर रही है। 31 दिसंबर 2020 को कोलकाता में तृणमूल यूथ कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी विनय मिश्रा के खिलाफ पशु तस्करी मामले में तलाशी अभियान चलाया गया था।  मिश्रा के खिलाफ एजेंसी ने लुक आउट सकरुलर जारी किया था। ज्ञात हो कि अभिषेक बनर्जी को लेकर पश्चिम बंगाल में राजनीति तेज है।

यह भी पढ़ेंः-तृणमूल को लग रहे झटके, मात्र 17 दिनों में ममता को मिला दूसरा इस्तीफा, अब इस मंत्री ने छोड़ा साथ

गृह मंत्री अमित शाह ने कई रैलियों में अभिषेक बनर्जी का नाम लेते हुए सीधा हमला बोला है। वहीं ममता बनर्जी के भतीजे ने अमित शाह के खिलाफ मानहानि का केस दायर किया है। कोयला तस्करी मामले में यह आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने अवैध रूप से खनन किए गए कोयले, जिसकी कीमत कई हजार करोड़ रुपये है। कायेले को पश्चिम बंगाल के पश्चिमी हिस्सों से चलाए गए एक रैकेट द्वारा कई वर्षों तक ब्लैक मार्केट में बेचा है। दिसंबर के शुरुआती हफ्तों में सीबीआई ने कोलकाता के सीए गणेश बगारिया के दफ्तर में भी छापा मारा था। इस मामले में बीजेपी तृणमूल कांग्रेस को घेरती रही है।

बीजेपी का आरोप है कि इसका मुख्य फायदा अभिषेक बनर्जी को हुआ है। विनय मिश्रा के यहां सीबीआई की छापेमारी के बाद टीएमसी के पूर्व नेता शुभेंदु अधिकारी ने अभिषेक बनर्जी पर हमला बोला था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि यह भतीजे की सक्षम लीडरशिप में टीम मेंबर्स की सच्ची तस्वीर है। इस मामले में मुख्य संदिग्ध अनूप माझी उर्फ लाला फरार है और जांच एजेंसी द्वारा पहले ही एक लुकआउट नोटिस जारी किया जा चुका है।

यह भी पढ़ेंः-चुनाव से पहले ममता बनर्जी को तगड़ा झटका, करीबी मंत्री ने दिया इस्तीफा, कई विधायक भी हैं नाराज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *