सुशांत केस को लेकर CBI की जांच का रास्ता साफ, केंद्र ने जारी किया नोटिफिकेशन

98

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आकस्मिक मौत को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. सुशांत की मौत क्यों हुई?, कैसे हुई?, क्या वजह?, और किसने की?, या फिर खुद सुसाइड किया?. यह सारे सवाल पुलिस के लिए एक अनसुलझी पहेली की तरह हैं। हालांकि अब तक इस पूरे घटनाक्रम की मुंबई पुलिस जांच कर रही थी. करीब डेढ़ महीने से ऊपर होने जा रहा है लेकिन मुंबई पुलिस के हाथ अब भी खाली हैं। कई लोगों ने मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए हैं। ऐसे में सवाल यह भी है कि क्या मुंबई पुलिस कुछ छिपा रही है?. अगर मुंबई पुलिस कुछ छिपा नहीं रही तो बिहार पुलिस के लिए रोड़ा क्यों बन रही थी?. क्यों जांच में सहयोग नहीं किया जा रहा था?. सहयोग तो छोड़िए बिहार के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को क्वारंटाइन के नाम पर हाउस अरेस्ट तक कर लिया गया. जिसके चलते बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से मुंबई पुलिस को जमकर फटकार पड़ी। वहीं कोर्ट ने बिहार पुलिस की सिफारिश पर यह मामला सीबीआई को सौंप दिया। जिसका नोटिफिकेशन भी जारी किया जा चुका है।

ये भी पढ़ें:-IPS विनय तिवारी को क्वारंटाइन किए जाने पर मुंबई पुलिस को फटकार, SC ने तीन दिन में मांगी रिपोर्ट

बता दें कि सुशांत सिंह के पिता केके सिंह द्वारा पटना राजीव नगर थाने में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसमें कई कई गंभीर आरोप भी लगाए गए. जिसके बाद से बिहार पुलिस सक्रिय

हुई और इस पूरे मामले पर बारिकी से जांच करनी शुरू कर दी। लेकिन मुंबई पुलिस से सहयोग न मिलने के चलते इस केस को सीबीआई को सौंपना पड़ा। हालांकि अब पूरे केस पर सीबीआई अपने तरीके से जांच करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को नोटिफिकेशन जारी करते हुए इस मामले को केंद्र की सीबीआई के हाथों सौंप दिया है।

मालूम हो कि रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के सदस्यों सहित छह अन्य लोगों के खिलाफ सुशांत सिंह को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया गया है. इन सभी के खिलाफ पटना में पुलिस ने भादंसं की धाराओं

341, 342 (आपराधिक तरीके से बंधक बनाना), 380 (जिस घर में रहें, वहां चोरी करना), 406 (आपराधिक विश्वासघात), 420 (धोखाधड़ी) और 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) में मामला दर्ज किया है।

पिता केके सिंह ने रिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने मेरे बेटे के साथ धोखा किया, व उसके पैसे ऐंठे। इतना ही नहीं अपना करियर संवारने के लिए मई 2019 में सुशांत से दोस्ती की थी। लेकिन उन्हें क्या पता था कि यह दोस्ती ही उनकी जान की दुश्मन बन जाएगी। बहरहाल अब यह पूरा मामला सीबीआई के अधीन है, उम्मीद की जा रही है कि इस मौत के रहस्य पर से जल्दी पर्दा उठेगा।

ये भी पढ़ें:-सुशांत के इस दोस्त की मौत की उड़ी थी अफवाह, अब उसी ने सामने आकर रिया-सिद्धार्थ पर किया खुलासा