PM मोदी के कामों की मुरीद हुई मायावती? बोलीं- अब हम BJP को ही वोट देंगे, चाहे कुछ भी हो जाए 

828

इसे कहते हैं सियासत। किसी भले मानुस ने बड़ी ही मुनासिब बात कही है कि भइया यह सियासत है। इसके गुना-भाग के जाल में तो बड़े-बड़े गणितज्ञ भी उलझ जाते हैं तो हम तो बड़ी अदनी सी चीज हैं। खैर, हम यह सब कहने पर इसलिए बाध्य हुए हैं कि कल तक बीजेपी के खिलाफ संसद से लेकर सड़क तक मोर्चा खोलने वाली बसपा सुप्रीम अब बीजेपी को वोट देने के लिए तैयार हो चुकीं हैं। इतना ही नहीं, मायावती ने साफ लहजे में कह दिया है कि चाहे कुछ भी हो जाए अब हम बीजेपी को वोट देंगे। जैसे को तैसा जवाब दिया जाएगा। अब चर्चाओं का बाजार अच्छा-खासा गरमा चुका है। सभी की जुबां पर इस बात को लेकर चर्चा अपने शबाब पर पहुंच चुकी है कि आखिरकार कल तक संसद से लेकर सड़क तक बहनजी ने जिसकी मुखालफत की.. जिसकी मजम्मत की.. क्या आज उसी की मुरीद हो गई? क्या है आखिरकार पूरा माजरा? जानने के लिए ज़रा तफ़सील से पढ़ें हमारी यह रिपोर्ट

पीएम मोदी की मुरीद हुई बहन जी? 
तो यहां पर हम आपको मामले की तह तक ले जाने से पहले यह बताते चले कि अभी बीते दिनों बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपनी पार्टी के सात बागी विधायकों को निलंबित कर दिया। इन बागी विधायकों को इनके बगावती रूख के चलते इन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया है। मायावती ने जिन बागी विधायकों को बाहर का रास्ता दिखाया उसमें बीएसपी ने विधायक असलम राइनी ( भिनगा-श्रावस्ती), असलम अली (ढोलाना-हापुड़), मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज) , हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), सुषमा पटेल( मुंगरा बादशाहपुर) और वंदना सिंह -( सगड़ी-आजमगढ़) का नाम शामिल है।

हम देंगे बीजेपी को वोट 
मायावती इन बागी विधायकों को बाहर का रास्ता दिखाते हुए साफ कर चुकी है कि हम जैसे को तैसा जवाब देना  जानते हैं। चाहे इसके लिए हमें कुछी भी क्यों न करना पड़े। उन्होंने तो यहां तक कह दिया था कि अगर हमें इसके लिए बीजेपी को भी वोट देना पड़े तो हमें इसके लिए कोई गुरेज नहीं है। बस.. मायावती के इन्हीं तकरीरों को मद्देनजर रखते हुए सियासी गलियारों में इस तरह की चर्चाओं का सिलसिला शुरू हो गया।

बोली बहुत बड़ी गलती हो गई 
इतना ही नहीं, इस बीच मायावती ने अपने दिए बयान में कहा कि हमसे बहुत बड़ी गलती हो गई कि हमने 1995 का केस वापस ले लिया। बसपा अध्य़क्ष ने कहा कि एमएलसी के चुनाव में हम सपा के उम्मीदवारों को हराने के लिए पूरी जोर आजमाइश करेंगे, चाहे इसके लिए हमें बीजेपी को भी वोट क्यों न करना पड़े।

SP का समर्थन करने के लिए हुई तैयार 
इस बीच मायावती ने सपा के संदर्भ मे कहा कि अगर वे एमएलसी चुनाव में अपनी पत्नी डिपंल यादव को मौका देते हैं तो हमारी पार्टी सपा के समर्थन के लिए तैयार रहेगी। ये भी पढ़े :श्मशान घाट पर महिला का नहीं होने दिया अंतिम संस्कार, मायावती ने ट्वीट कर कही ऐसी बात