बहन की चिता पर ही भाई ने लगा छलांग , एक साथ हुआ अंतिम संस्कार

उसने अपनी बहन की जलती चिता को प्रणाम किया और उस पर लेट गया। आंख से झुलसने की वजह से उसको अस्पताल ले जाया गया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

0
338
Sagar ,Mp News,Suicide,Human Story

एमपी के सागर के नजदीक गांव में एक युवक ने अपनी ही बहन की चिता पर लेट कर जान दे दी। उसकी बहन कुएं में गिर गई थी, जिसके कारण उसकी मौत हुई थी। इस मामले में हैरानी की बात यह रही कि चचेरी बहन की मौत की खबर मिलते ही 430 किलोमीटर दूर धार से सीधे वह श्मशान घाट पहुंचा। वहां जाकर उसने अपनी बहन की जलती चिता को प्रणाम किया और उस पर लेट गया। आंख से झुलसने की वजह से उसको अस्पताल ले जाया गया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

सुसाइड करने वाली बहन का नाम ज्योति उर्फ प्रीति खेत पर गई थी लेकिन काफी देर बाद वापस नहीं लौटी उसके भाई शेर सिंह ने घटना की जानकारी में बताया बहुत देर हुई और नहीं आई तो उसकी तलाश शुरू की गई, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला, फिर लोगों को 2 घंटे बाद 11:00 बजे ज्योति के कपड़े दिखा रही है तो पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस ने कुएं से शव को बाहर निकाला पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जैसे ही लड़की के चचेरे भाई को पता चले तो तुरंत ही बाइक से वहां पहुंचा और अंतिम संस्कार के समय 6:00 बजे गांव के सभी लोग जब घर लौट आए। तब करण ठाकुर वहां नहीं पहुंचा था लेकिन जब तक वह श्मशान घाट में पहुंचा तो उसने बहन की चिता के ऊपर ही अपने को जला दिया। जल्दबाजी में लोग उसको हॉस्पिटल ले गए लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। जिसके बाद उसका भी अंतिम संस्कार उसकी बहन की चिता के बगल में ही किया गया।

Read More-नर्स की गलतफहमी से दूर हुआ बच्चा, कोर्ट ने 3 साल बाद मिलाया मां और बेटे को