CM नीतीश कुमार के जनसभा में मची अफरा-तफरी, JDU प्रमुख ने जनता पर निकाला गुस्सा

92
CM Nitish Kumar

बिहार चुनाव (Bihar Election) के पहले चरण के इलेक्शन 28 अक्टूबर से होने वाले हैं। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां जनता को लुभाने में लगी हैं। बिहार के मुख्यमंत्री और JDU प्रमुख नीतीश कुमार (Nitish Kumar) काटी विधानसभा में जेडीयू प्रत्याशी मोहम्मद जमाल के समर्थन में जनता से अपील करने पहुंचे, जहां वह जनता को संबोधित भी करने वाले थे। हालांकि, नीतीश कुमार कार्यक्रम के दौरान अफरा तफरी देख भड़क गए। दरअसल, कार्यक्रम के दौरान कुछ युवकों द्वारा नीतीश कुमार मुर्दाबाद और वापस जाओ के नारे लगाने लगे जिसके चलते कार्यक्रम में अफरा तफरी मच गई।

यह भी पढ़े- ‘मुसलमान बच्चे नहीं’, RSS प्रमुख के इस बयान पर औवेसी ने किया तीखा हमला

कार्यक्रम में नारे लगाने वाले युवकों का गुस्सा रोजगार नहीं मिलने की वजह से था। युवकों का कहना था कि हमें रोजगार चाहिये, झूठे वादे नहीं। इस तरह की घटना होने के बाद सीएम नीतीश कुमार का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। नीतीश कुमार ने गुस्से में कहा कि यहां क्यों आये हो, जिसकी जिंदाबाद के नारे लगा रहे हो, उसे सुनने जाओ। सीएम नीतीश ने कहा कि कुछ लोगों को न कोई ज्ञान है और न हीं कोई अनुभव है। हम समाज को एक करने में लगे हुए हैं और वो लोग समाज को बांटने में लगे हुए हैं।

रोजगार न मिलने पर विरोध कर रहे युवकों को सीएम नीतीश फटकारते हुए कहते हैं, अपने मां-बाप से जाकर पूछो, कि आज से 15 वर्ष पहले घर से निकलना कितना मुश्किल होता था। पूरे बिहार में जो स्वास्थ्य केंद्र हैं, उनमें एक महीने में 39 मरीज आते थे। हमारी सरकार ने इन स्वास्थ्य केंद्रों में व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया है। अब इन स्वास्थ्य केंद्रों में एक माह में 10 हजार से अधिक मरीज इलाज कराने के लिए आते हैं। बता दें कि, इस कार्यक्रम के दौरान दो-तीन लोगों ने सीएम नीतीश को चप्पल भी दिखाई थी।