सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर बुरी फंसी महाराष्ट्र सरकार, उठ रहे हैं अब ऐसे गंभीर सवाल

275

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच कर रही बिहार पुलिस महकमे में पटना के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को महाराष्ट्र सरकार द्वारा जबरन 14 दिनों तक क्वराइंटिन किए जाने बाद बिहार की विपक्षी पार्टी ने महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ मोर्च खोल दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बाद अब बिहार के विपक्षी दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने महाराष्ट्र सरकार के इस कदम पर गंभीर सवाल उठाए हैं।

ये भी पढ़े :सुशांत सिंह राजपूत का हुआ है मर्डर! सुब्रमण्यम स्वामी ने गिनाईं 26 बड़ी वजहें, देखें लिस्ट

न महज हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है बल्कि जमकर धज्जियां भी उड़ाई है..यहां पर हम आपको बताते चले कि महाराष्ट्र सरकार ने आईपीएस विनय तिवारी को क्वारइंटिन किए जाने के बाद हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रवक्ता धीरेंद्र कुमार मुन्ना ने ट्वीट कर कहा, ‘बिहार के 4 अफसर जो पहले मुंबई गए थे। क्या वे कोरोना फ्री का सार्टिफिकेट लेकर गए थे कि उन्हें क्वारइंटिन नहीं किया गया, लेकिन आईपीएस विनय तिवारी को कर दिया। इससे साबित होता है कि महाराष्ट्र सही तथ्यों को छुपाना चाह रही है। ‘हम’ पार्टी बिहार पुलिस के साथ खड़ी है। सुशांत को इंसाफ मिलेगा।

ध्यान रहे कि इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विनय तिवारी को क्वराइंटिन किए जाने पर महाराष्ट्र सरकार के रूख पर सवाल उठाया था। मुख्यमंत्री ने कहा था कि महाराष्ट्र सरकार ने जो किया है, वो बिल्कुल भी ठीक नहीं किया है। उन्होंने कहा कि हम अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। मुंंबई में विनय तिवारी के साथ जो किया गया है, वो बिल्कुल भी ठीक नहीं था। मुख्यमंत्री ने महाराष्ट्र सरकार के रूख पर नाराजगी जताते हुए कहा कि हम सरकार से बात करेंगे। उधर, खबर है कि बिहार के डीजीपी महाराष्ट्र के डीजीपी से भी बात करेंगे।

ये भी पढ़े :सुशांत सिंह राजपूत केस में आदित्य चोपड़ा ने किए कई बड़े खुलासे, फिल्म ‘पानी’ की बताई असल सच्चाई