बिहार चुनाव: महागठबंधन ने जारी किया घोषणापत्र, अब नहीं झेलना होगा बिहारवासियों को पलायन का दर्द

45

बिहार चुनाव की तारीख मुकर्रर हो चुकी है। चुनाव-प्रचार अपने शबाब पर पहुंच चुका है। इस बीच कई मौकों पर आरोप-प्रत्यारोप का खेल भी देखने को मिलता है, मगर अब महागठबंधन चुनाव से पहले अपनी तामाम तैयारियों को पुख्ता कर लेना चाहता है। इसी कड़ी में अब महागठबंधन ने बिहार चुनाव से पहले घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस घोषणापत्र में कई ऐसे वादे किए गए हैं, जो आगामी दिनों में बिहारवासियों के लिए संजीवनी बुटी साबित होगी। घोषणापत्र में बताया गया है कि अब बिहारवासियों को पलायन का दर्द नहीं झेलना होगा। अब उन्हें रोजगार की तलाश में दिल्ली, मुंबई जैसे शहरों का रूख नहीं करना होगा, क्योंकि महागठबंधन ने अपने घोषणापत्र में  यहां के युवाओं को 10 लाख नौकरी देने का ऐलान किया है। ये भी पढ़े :बिहार चुनाव से पहले पप्पू यादव का बड़ा ऐलान..अगर नहीं कर पाऊं ये वादा पूरा, तो आप लोग मुझे.. 

युवाओं को मिलेगी नौकरी 
वहीं, तेजस्वी ने अपनी सरकार बनने पर 10 लाख नौकरी देन का ऐलान किया है। इतना ही नहीं, उन्होंने साफ कर दिया है कि अगर बिहार में हमारी सरकार बनती है, तो इंटरव्यू जाने के लिए युवाओं को बस का किराया भी दिया जाएगा। इस दौरान तेजस्वी ने सभी लोगों को नवरात्र की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि आज नवरात्र का पहला दिन है। आज के दिन सभी  के घऱ में कलश की स्थापना होती है। आप सभी लोगों को आज के दिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। बता दें कि महागठबंधन ने अपने घोषणापत्र का का टैगलाइन ‘प्रण है हमारा बदलाव का’ का रखा है।

किए हैं सुनहरे वादे 
उधर,  तेजस्वी यादव ने घोषणापत्र जारी करते हुए 10 लाख युवाओं को नौकरी देने के इतर श्रम केंद्र खोलने की बात कही है। नियोजित शिक्षकों को सामान वेतन देने की  बात कही गई है। उन्होंने कहा कि पुल पुलिया को दुरूस्त किया जाएगा। बिहटा में एयरपोर्ट बनेगा।  बिजली के क्षेत्र में बिहार में उतना उत्पादन नहीं है। बिजली खरीद कर सरकार बेचती है, लेकिन हमारा जोर उत्पादन पर होगा।

किसानों के लिए भी खोला पिटारा 
इसके साथ ही महागठबंधन ने अपने घोषणापत्र में किसानों को भी खास तवज्जो दी है। घोषणापत्र में कहा गया है कि अगर बिहार में हमारी सरकार बनती है, तोे किसानों के कर्ज को माफ किया जाएगा। उन्हें उन्नत सुविधाएं प्रदान की जाएगी। हम बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए संघर्ष करेंगे।

नीतीश पर भी बोला हमला 
इस बीच उन्होंने नीतीश को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बिहार की  जनता बिहार सरकार से खफा है। इनके कार्यकाल में 60  घोटाले हुए हैं। कानून-व्यवस्था लचर होती जा रही है। गौरतलब है कि आगामी 28 अक्टूबर से तीन चरणों में बिहार में चुनाव होने जा रहे हैं। जिनके नतीजों की घोषणा 10 नवंबर को होगी। ये भी पढ़े :बुरे फंसे नीतीश कुमार, बिहार के बारे में बोल रहे थें कुछ ऐसा-वैसा, चिराग ने लगा दी जमकर क्लास