पुलिसवाले से पूछा हेलमेट क्यों नहीं पहनते हैं, तो ‘दादागीरी’ दिखाने लग गए, उसके बाद जो हुआ….

0
2002

ये जो ऊपर तस्वीर लगाई गई है। ज़रा इसे ध्यान से देखिएगा। देखने पर आपको ये पुलिसकर्मी लगेगा। इसमें कोई दोमत और दोराय नहीं है कि ये कानून के रक्षक होते हैं। इनका मूल काम ही होता है, कानून की रक्षा करना। मतलब साफ है, कि सरकार ने जो कानून बनाए हैं। उसका सब पालन करें। वहीं, ऐसी स्थिति में जब कोई कानून का उल्लंघन करता है तो उसको सजा दी जाए, लेकिन अब सवाल खड़े हों रहे हैं कि अगर आखिर कानून के रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे, तब क्या होगा? ये भी पढ़े :जब पुलिसवाले का काटा चालान तो छोड़कर भागा बाइक, हेलमेट ना लगाने पर लड़की बोली, लंबे हैं बाल

कुछ ऐसी ही तस्वीर हमें बिहार के बक्सर जिले में देखने को मिली है। गौरतलब है कि 1 सितंबर अपने साथ उन सभी लोगों पर कहर बनकर टूटा, जो ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने में दिलचस्पी रखते हैं। अब चाहे वो कोई-भी, वो आम हो या खास इस बात से फर्क नहीं पड़ता। यहां तक की भारत का संविधान भी इस बात विवेचना बखूबी करता है कि कानून की नजर में हर कोई समान है। अब चाहे वो अमीर हो या गरीब, शिक्षित हो या अशिक्षित। लेकिन, बिहार के बक्सर जिले में इसकी बिल्कुल अलहदा तस्वीर देखने को मिली है।

बिहार के बक्सर जिले में एक दरोगा बिना हेलमेट के जा रहे थें। सड़क पर चलते हुए किसी शख्स ने उनसे थोड़ा बदतमीजी से पूछ लिया कि आपने हेलमेट क्यों नहीं लगाया है? यहां पर हमें थोड़ा ध्यान देने की जरूरत है कि वो शख्स, जिसने हेलमेट नहीं लगाया था वो दरोगा था। मतलब…साफ उनका मूल कर्तव्य है कानून की रक्षा करना, तो ऐसे में उसे हेलमेट लगाए रहना चाहिए, लेकिन उसने हेलमेट नहीं लगाया, और फिर जब उस शख्स ने दरोगा से पूछा कि आपने हेलमेट क्यों नहीं लगाया तो वो उससे बदतमीजी करने लगा।

इतना ही नहीं, बात तो यहां तक पहुंच गई कि दरोगा उस सवाल पूछने वाले शख्स से मारपीट करने पर उतारू हो गया। उसकी कॉलर पकड़कर खींचने लगा। उसके साथ गाली-गलौच करने लगा। उसको सबक सिखाने की धमकी देने लगा। इसके एवज में, जिसका उस दरौगा ने कॉलर पकड़ा था। वो कहता रहा कि मैं तुम्हारी शिकायत डीएम से करूंगा। लेकिन, वर्दी के नशे में मदहोश दरोगा उसकी कहां सुनने वाला था। वो लगातार उसकी कॉलर पकड़कर उसे धमकाता रहा।

वहीं, जब दरौगा को मालूम पड़ा कि उसकी इन सब करतूतों की वीडियो बनाई जा रही है तो वो एकाएक अपना रूख बदलने लगा, और कहने लगा कि मैं तो इसका फाइन दूंगा। बहरहाल, शिकायत आलाकमान के पहुंचने के बाद दरोगा को निलंबित कर दिया गया है, लेकिन ये सिलसिला यहीं खत्म होता हुआ नजर नहीं आ रहा है। इस बीच एक और वीडियो सामने आया है जिसमें एक पुलिसकर्मी बिना हेलमेट पहने बाइक चलाने में मसरूफ हैं। जब उनसे पूछा गया कि आपने हेलमेट क्यों नहीं लगाया तो वो सरपट बाइक चलान लगे। ये भी पढ़े :ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर स्मृति ईरानी का शायराना अंदाज, बोलीं- एक चालान तो तेरा भी बनता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here