बड़ी खबर: इस कंपनी ने भारतीय बाजार में उतारी कोरोना की दवा, जानें कितनी है कीमत

186
कोरोना दवा

कोरोना वायरस ने दुनिया में तबाही मचा दी है। इस वायरस की चपेट में करोड़ों लोग आ गए है। तो वहीं, लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के आंकड़े ने विकराल रूप ले लिया है लेकिन अब तक किसी भी देश के पास इस वायरस को खत्म करने की दवा तैयार नहीं है लेकिन इस बीच अब दवा क्षेत्र की प्रमुख कंपनी लुपिन ने कोरोना वायरस की दवा को भारतीय बाजार में उतारा है दरअसल इस कंपनी ने कोविड-19 के हल्के और कम संक्रमित रोगियों के इलाज के लिए दवा फेविपिराविर को कोविहाल्ट ब्रांड नाम के साथ बाजार में उतारा है। जिसकी जानकारी कंपनी की तरफ से दी गई है।

लुपिन कंपनी ने जानकारी में देते हुए बताया कि फेविपिराविर को आपात स्थिति में इस्तेमाल के लिए भारत को औषधि महानियंत्रण से अनुमित मिल गई है। कोविहाल्ट में दवा की मात्रा को प्रशासन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए विकसित किया गया है। यह दवा 200 मिलीग्राम की गोली के रूप में 10 गोलियों की स्ट्रिप के रूप में उपलब्ध होगी। इस एक गोली की कीमत 49 रुपये रखी गई है। हालांकि लुपिन कंपनी से पहले सन फामास्युटिकल इंडस्ट्रीज ने भी फेविपिराविर को फ्ल्यूगार्ड ब्रांड के नाम से बाजार में उतारा है। इस कंपनी ने इस एक गोली की कीमत 35 रुपये रखी थी।

इतना ही नहीं, कोरोना वायरस से कम संक्रमित मरीजों के लिए दवा कंपनी बीडीआर फार्मास्युटिकल्स ने भी फेविपिराविर की गोली को भारतीय बाजार में उतारा है। कंपनी ने इस दवा को बीडीफैवि ब्रांड के नाम से भारतीय बाजार में उतारा है। इस दौरान एक गोली की कीमत 63 रुपये रखी गई है। इन सबके अलावा जेनारा फार्मा को फेविपिराविर को भारतीय बाजार में उतारने की मंजूरी मिल गई। कंपनी इस दवा को फेविजेन ब्रोड के नाम से उतारेगी।

ये भी पढ़ें:-कोरोना को मात दे चुके अमिताभ पर इस महिला ने लगाए गंभीर आरोप, भड़के बिग बी ने दिया मुंहतोड़ जवाब