बड़ा खुलासा: IS ने भारत में 100 से अधिक जगहों पर रची थी बम धमाका करने की साजिश, CAA विरोधियों से..

32
IS plot to bomb 100 places in India

कोरोना कहर के बीच चल रही आतंकियों की साजिश (Plot of terrorists) का एक के बाद एक भंडाफोड़ हो रहा है. दरअसल भारत में कई जगहों पर धमाका करने की रची साजिश से अब पर्दा उठने लगा है. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) की ओर से भारत में बड़े आतंकी हमले को लेकर अभी भी संभावनाएं बनी हुई हैं. दरअसल CAA-एनआरसी और फिर धारा-370, राम मंदिर के फैसले से आईएस की बौखलाहट तेज हो गई है. हैरानी वाली बात तो ये है कि हाल ही के हुए खुलासे में ये जानकारी हाथ लगी है कि आईएस की ओर से भारत में तकरीबन 100 जगहों पर विस्फोट करने का षड्यंत्र रचा गया था.

ये भी पढ़ें:- ISI आतंकी अबु यूसुफ़ के घर बरामद हुई बम विस्फोटक सामग्री, यहां-यहां की थी धमाके की तैयारी

दरअसल जामिया नगर, दिल्ली से आईएस के आतंकी जहांजेब और उसकी पत्नी हिना ने खुद आईएस की आतंकी साजिश से पर्दा उठाते हुए ये बात कबूली थी कि अबू यूसुफ की ओर से भी इस तरफ संकेत दिया गया है. ऐसे में अब खबर है कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल अबू यूसुफ के दो मोबाइल फोन का फोरेंसिक जांच करवाएगी. ताकि ये खुलासा हो सके कि ये आतंकी किन-किन लोगों से चैटिंग के जरिए संपर्क में था और किन लोगों से टेलीग्राम पर कॉलिंग के जरिए बात करता था.

फिलहाल स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा है कि अभी भी खुफिया विभागों (Intelligence departments) के पास इस तरह के संकेत मिल रहे हैं कि आईएस (IS) की ओर से भारत में आतंकी हमले करवाने की साजिश रची जा रही है. जिसके बारे में अबू यूसुफ (Terrorist Abu Yusuf) से हुई पूछताछ के बाद खुलासा हुआ है. इतना ही नहीं बल्कि अबू युसूफ ने पूछताछ में ये भी उगला है कि भारत में आईएस अब लोन वुल्फ अटैक करने का बड़ा षड्यंत्र रच रहा है. इसके साथ ही स्पेशल सेल के एक अधिकारी ने ये भी खुलासा किया है कि कश्मीर में रहने वाले आईएस के आतंकी जहांजेब के मोबाइल फोन की फोरेंसिक रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ था कि वो किसी थ्रीमा ग्रुप पर चैटिंग किया करता था.

हैरान करने वाला खुलासा तो ये है कि जहांजेब ग्रुप में तिहाड़ जेल में बंद आईएस का खतरनाक कैदी ऊर्फ आतंकी अब्दुल्ला बासित और अफगानिस्तान में बैठा आईएस के भारत चीफ से चैटिंग पर बातचीत करता था. चैटिंग के मुताबिक भारत चीफ और अब्दुल्ला बासित ने जहांजेब को मैसेज करके बताया था कि पूरे भारत में एक वक्त पर 100 से ज्यादा बम धमाका करना है. याद रहे कि इनमें से एक भी धमाका वेस्ट नहीं जाना चाहिए. इतना ही नहीं भारत के चीफ ने तो अपने चैट में ये निर्देश तक दिया था कि हिन्दुस्तान में बम धमाका करवाने के लिए सीएए (CAA) के खिलाफ सड़क पर उतरे एक संगठन से संपर्क करो. बता दें कि इस मोबाइल चैटिंग से भारत में कौन सा कांड कब रचना था इस मामले की पूरी जानकारी है.

चैट से एक और बात निकल कर सामने आई है. दरअसल आईएस के मुखियों ने अबू यूसुफ को ये निर्देश दिया था कि वो अपने इस आतंकी संगठन में लोगों को जेहाद के नाम पर भर्ती करें. युवाओं को इसमें टारगेट पर रखा गया था. जिसे अबू यूसुफ की ओर से लगातार अंजाम भी दिया जा रहा था. रिपोर्ट्स के मुताबिक अबू यूसुफ ने अपने बयान में कबूला है कि आईएस हर कीमत पर बस भारत में धमाका कराने की साजिश को अंजाम दिलवाना चाहता था. इसके लिए आईएस भारत के ही युवा पीढी को और यहां पर पल रहे बदमाश-गैंगस्टर का यूज करना चाहता था. बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस जहांजेब और उसकी पत्नी साथ ही अब्दुल्ला बासित से एक बार फिर और सच उगलवाने की कोशिश करेगी. हालांकि इस पूछताछ के लिए पहले दिल्ली पुलिस को अबू यूसुफ का रिमांड और आगे के लिए बढ़वाना पड़ेगा.

ये भी पढ़ें:- पुलवामा 2 की तैयारी कर रहे थे आतंकी, बालाकोट एयरस्ट्राइक से डरे मसूद अजहर ने रुकवाया