Thawer chand gahlot

दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी के कैबिनेट के विस्तार की तैयारियों के बीच केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत (Thawar chand Gahlot) को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 8 प्रदेशों में नए राज्यपाल की नियुक्ति की है। मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार से पहले राजस्थान से आने वाले दलित नेता और केंद्र में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त किये जाने के साथ ही एक और मंत्रीपद खाली हो गया है। हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का राज्यपाल और मंगूभाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। राजेंद्रन विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया है। पीएस श्रीधरन पिल्लई को गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा का राज्यपाल और रमेश बैस को झारखंड का राज्यपाल बनाया गया है। बंडारू दत्तात्रेय को हरियाणा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।

इनको मिल सकती है कैबिनेट में जगह
मोदी सरकार के कैबिनेट में बड़ा फेरबदल होने वाला है। केन्द्र में दूसरी बार बनी मोदी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार है। इस बार मोदी कैबिनेट में करीब 20 नए चेहरों को जगह मिल सकती है। जबकि मौजूदा कैबिनेट से कुछ लोगों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। थावर चंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल बनाकर केन्द्रीय मंत्री का एक पद खाली किया गया है। कांग्रेस छोड़ भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी कैबिनेट में जगह मिल सकती है। वरिष्ठ नेता नारायण राणे को भी इसी बदलाव को देखते हुए नई दिल्ली बुलाया गया है।

असम के पूर्व सीएम सर्बानंद सोनोवाल भी दिल्ली पहुंच रहे हैं। माना जा रहा है कि पश्चिम बंगाल से बीजेपी सांसद शांतनु ठाकुर, बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के अलावा जेडीयू के आरसीपी सिंह, लोक जनशक्ति पार्टी (पारस गुट) से पशुपति पारस, अपना दल से अनुप्रिया पटेल, निषाद पार्टी से प्रवीण निषाद समेत 20 नए चेहरों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः-महाराष्ट्र की सियासत : शिवसेना-BJP की दोस्ती पर संजय राउत ने दिया आमिर खान और किरण राव का उदाहरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here