barbara jarabica on mehul choksi

पीएनबी घोटाले का मास्टरमाइंड हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) को लेकर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। अब बड़ा खुलासा उस मिस्ट्री गर्ल ने किया है जो कथित रूप से मेहुल चोकसी की प्रेमिका बताई जा रही है। हैरानी वाली बात यह है कि मिस्ट्री गर्ल का दावा है कि वह भगोड़े मेहुल चोकसी की प्रेमिका (Mehul Choksi Girlfriend) नहीं है। जबकि इससे पहले ऐसी खबरें सामने आई थीं कि मेहुल और बारबरा जाबरिका (Barbara Jarabica) का एक-दूसरे से प्रेम संबंध हैं। पर अब जराबिका ने यह तक कह दिया कि मेहुल उसके शूगर डैडी नहीं है और उसका अपना बिजनेस व इनकम है। जराबिका का कहना है कि उसे मेहुल के पैसे, मदद, होटल बुकिंग और नकली जेवरातों की आवश्यकता नहीं है।

बारबरा का बड़ा खुलासा!
दरअसल, मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) ने भारत आने से बचने के लिए कई तरह के दांव खेले और इनमें कथित रूप से बारबरा जराबिका का भी नाम सामने आया। पर अब जराबिका ने ANI से खास बातचीत की जिसमें उसने ना सिर्फ खुलासे किए बल्कि बताया कि वह और उसका परिवार किस कदर परेशान है।mehul choksi जाबरिका ने बताया कि मेहुल चोकसी उसे अपने जूलरी बिजनेस से जोड़ना चाहता था लेकिन उसने साफ मना कर दिया था। वहीं मेहुल ने उसे लुभाने के लिए अंगूठी और नेकलेस भी दिए जिससे वह बिजनेस से जुड़ जाए पर तोहफे के रूप में दी गई जूलरी नकली थी।

क्या बताया था नाम?
बातचीत में बारबरा जराबिका (Barbara Jarabica) ने बताया कि वह मेहुल चोकसी से जब मिली थी तो उसने अपना नाम ‘राज’ बताया था। वह अक्सर उसके साथ फ्लर्ट करने की कोशिश करता था और ऑफिस में किस करने की भी कोशिश की थी। इंडिया टूडे ने एक रिपोर्ट में बारबरा के हवाले कहा कि मेहुल चोकसी के वकीलों ने उसका नाम जबरन इस मामले में घसीटा है। जबकि उसका अपहरण से कोई संबंधि नहीं है। हालांकि, जराबिका ने यह भी बताया कि दोनों में दोस्ती हुई लेकिन फिर मेहुल उसके करीब आने की कोशिश करने लगा था।

तनाव में है परिवार
मेहुल चोकसी की कथित प्रेमिका बारबरा जराबिका (Barbara Jarabica) का कहना है कि जब वह उसके फ्लैट में गई थी तब भी मेहुल ने उसे किस करने की कोशिश की थी। इस पूरे मामले की वजह से उसका परिवार भी तनाव में है। बता दें, मेहुल की कथित प्रेमिका ने कई ऐसे मैसेज दिखाए हैं जिससे दोनों के बीच के संबंधों के बारे में जानकारी मिलती है।mehul choksi barbara बारबरा का तो यह तक कहना है कि अगर वह वाकई मेहुल का अपहरण करना चाहती तो उसके पास ऐसा करने के कई मौके थे लेकिन उसने ऐसा कुछ नहीं किया। मालूम हो कि, भारत आने से पहले मेहुल ने एंटीगुआ पुलिस को एक शिकायती पत्र लिखा था जिसमें उसका कहना था कि उसे मार-पीटकर डोमिनिका लेकर जाया गया और इसके पीछे महिला मित्र बारबरा जराबिका का हाथ है। मेहुल के इसी पत्र के बाद मामले में नया मोड़ आया और बारबरा जराबिका पर सवाल उठने लगे।

ये भी पढ़ेंः- एक नहीं 4 बार रतन टाटा को हुआ प्यार, इस वजह से मंडप तक नहीं पहुंच सकी Love Story

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here