कोरोना संकट में सरकार देगी बेरोजगारी भत्ता, ऐसे करें आवेदन, पाएं लाभ

743

देशभर में कोरोना संकट का दौर अपने चरम पर है, कोरोना की रोकथाम के लिए संपूर्ण भारत में पिछले छह माह से लॉकडाउन लगाया जा रहा है, लेकिन इस लॉकडाउन की वजह से बेरोजगारी का ग्राफ भी बढ़ता चला गया है। चूंकि एक ओर कोरोना वायरस कुंडली मार के बैठ गया है, तो वहीं दूसरी ओर लॉकडाउन लग जाने से बेरोजगारी की समस्या भी उत्पन्न हुई है। कई सेक्टर मंदी के दौर से गुजर रहे हैं। लाखों लोगों की नौकरियों पर संकट मंडरा रहा है। कोरोना तो था ही अब बेरोजगारी भी एक समस्या बनकर उभर रही है। इस बीच बेरोजगार हुए लोगों के लिए श्रम मंत्रालय ने अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत राहत बढ़ाने के फैसले को अधिसूचित कर दिया है। कामगरों के लिए सरकार ने राहत की खबर सुनाई है।

ये भी पढ़ें:-भारत और जापान के बीच हुई ऐतिहासिक डील, चिढ़ गया चीन!

सरकार के इस फैसले के बाद ईएसआईसी (ESIC) के सदस्य कर्मचारियों को करीब 50 फीसदी अनएम्प्लॉयमेंट बेनिफिट देने का रास्ता साफ हो गया है। इस निर्णय से करीब 40 लाख कामगारों को फायदा हो सकता है। कोरोना संकट में बेरोजगार हुए औद्योगिक कामगारों के लिए सरकार ने बहुत अच्छी खबर दी है।

सरकार ने तय कि या है कि कोरोना संकट में नौकरी गंवा चुके औद्योगिक कामगारों को तीन महीने तक 50 फीसदी पैसा अनएम्प्लॉयमेंट बेनिफिट के रूप में दिया जाएगा। यह फायदा उन कामगारों को मिलेगा जिनकी इस साल 24 मार्च से 31

दिसंबर तक नौकरी चली गई हो। इसके साथ ही सरकार ने इस योजना को 1 जुलाई, 2020 से एक साल के लिए बढ़ा दिया है और यह 30 जून, 2021 तक प्रभावी रहेगी।

इस योजना से 41,94,176 कामगारों को फायदा मिलने की उम्मीद है जो संशोधित शर्तों के तहत इस योजना के दायरे में आ गए हैं और इससे ईएसआईसी पर 6710.68 करोड़ रुपये को बोझ पड़ेगा। लेकिन ESIC श्रम मंत्रालय के तहत आने वाला एक संगठन है जो 21,000 रुपये तक के कर्मचारियों को ESI स्कीम के तहत बीमा मुहैया करता है।

कैसे लें फायदा

बता दें कि ईएसआईसी अपने डेटा के मुताबिक बेरोजगार कामगारों को यह फायदा देगा, लेकिन इसके लिए कर्मचारी किसी ESIC शाखा में जाकर सीधे भी आवेदन कर सकते हैं और उचित वेरिफिकेशन के बाद उनके बैंक खाते में सीधे रकम पहुंच जाएगी. इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आधार नंबर की सहायता ली जाएगी।

ये भी पढ़ें:-किसानों पर बरसी PM मोदी की मेहरबानी, शुरू किया ये ऐप, जानें इसके फायदे