सुप्रीम कोर्ट के फैसले से खुश नहीं ओवैसी, बोले- नहीं चाहिए 5 एकड़ की खैरात, आस्था की जीत हुई है

सुप्रीम कोर्ट ने 70 सालों से चले आ रहे मुद्दे पर अपना फैसला सुनाते हुए जहां राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया है। तो वहीं इस फैसले के बाद से देश में खुशी का माहौल है। देश का हर नागरिक कोर्ट के फैसले का सम्मान कर रहा है। इस बीच लोग कई तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। वहीं असुद्दीन ओवैसी (AIMIM Asaduddin owaisi) कोर्ट के फैसले से काफी खफा नजर आए। उनका कहना है कि, उन्हें 5 एकड़ की खैरात नहीं चाहिए। बता दें, कोर्ट ने मुस्लिमों को मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में ही 5 एकड़ जमीन देने की बात कही है। जबकि, विवादित स्थल का कब्जा केंद्र सरकार के पास ही रहेगा।

आस्था की जीत हुई है
ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अपना बयान देते हुए ये भी कहा कि, वह फैसले से बिल्कुल खुश नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि, ये जीत तथ्यों की नहीं बल्कि आस्था की है। तो वहीं बीजेपी नेता सुब्रण्यम स्वामी ने विहिप के दिवगंत नेता अशोक सिंहल को भारत रत्न दिलाने की मांग की है। उनका कहना है कि, ऐसे समय में उन्हें भी जरूर याद किया जाना चाहिए। ये दिन देश के लिए ऐतिहासिक दिन है।

भारतवासी बनाए रखें शांति
वहीं फैसला आने के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, सालों पुराने मसले को न्याय के मंदिर ने सुलझा दिया। फैसले को हार या जीत के आधार पर नहीं देखा जाना चाहिए। आस्था चाहे राम के प्रति हो या रहीम के प्रति, अब समय है कि, सब मिलकर भारत को मजबूत करें। इसी के साथ पीएम मोदी ने देशवासियों से प्रेम, सौहार्द और शांति से भी रहने की अपील की है।

ये भी पढ़ेंः- राम मंदिर का 70 साल पुराना इतिहास जिसके लिए 9 नवंबर 2019 बनी ऐतिहासिक तारीख, जानें कब क्या हुआ

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

1,092,278FansLike
5,000FollowersFollow
5,023SubscribersSubscribe

Latest Articles