Monday, December 6, 2021

काशी के कोतवाल काल भैरव के दरबार में अमित शाह ने ओजस गुजराती से कही ये बात

Must read

- Advertisement -

वाराणसी। धर्म नगरी काशी में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह शुक्रवार को यूपी चुनाव के लिए मंथन के बाद बाबा काल भैरव के दरबार में पूजा-अर्चना किये। इस दौरान वहां के पुजारियों ने गृह मंत्री अमित शाह के लिए विशेष पूजा तथा आरती की गई। मंदिर से बाहर निकलते हुए गृह मंत्री अमित शाह तब अचानक रुक गए जब एक बच्चे ओजस गुजराती ने उनके पैर छूये। इस दौरान अमित शाह कुछ देर रुके और बच्चे से बातचीत की। गृह मंत्री अमित शाह का ये अंदाज काशी की गलियों में चर्चा के केंद्र में रहा। दरअसल हुआ यूं कि जब गृह मंत्री अमित शाह मंदिर से निकल रहे थे तब मिठाई की दुकान के पास एक बच्चा खड़ा हुआ था। अचानक गृहमंत्री सामने से गुजरे तो उसने उनके पैर छू लिये।

- Advertisement -

अमित शाह भी खुद को रोक नहीं पाए और फिर उस बच्चे से बात भी की और उस को आशीर्वाद दिया। बच्चे के हाथों पर जो कॉपी थी उस पर आशीर्वाद रूपी वचन भी लिखे। अमित शाह ने उसकी कॉपी पर लिखा मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ है ओजस। इससे पहले अमित शाह ने मंदिर में विशेष पूजा-अर्चना की। 2014 से अब तक जब कभी भी चुनावी शंखनाद भाजपा की ओर से होता है तो सबसे पहले गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबा काल भैरव के दरबार में मत्था टेकते हैं। बाबा काल भैरव काशी के कोतवाल हैं। ऐसी मान्यता है कि काशी काल भैरव की इच्छा से ही है।

गृह मंत्री अमित शाह की पूजा कराने वाले महंत नवीन गिरी ने बताया कि उनकी विशेष पूजा-अर्चना की गई। उनका तेल का उतारा कराया गया साथ ही साथ कपूर की भी आरती की गई। महंत नवीन गिरी ने बताया कि मान्यता है कि ऐसी पूजा करने से जो कोई भी रुकावट होती हैं वह दूर हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के पहले ऐसी पूजा करने से भाजपा को जरुर सफलता मिलेगी।

यह भी पढ़ेंः-काशी में अमित शाह बनायेंगे विधानसभा चुनाव की रणनीति, संगठन और पार्टी की ऐसी है तैयारी

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article