चीन से तनाव के बीच भारत के समर्थन में अमेरिका का बड़ा बयान, ड्रैगन को दी ये सख्त चेतावनी

82
INDIA CHINA

चीन और भारत के बीच का तनाव चरम पर है। दोनों देशों की सेनाओं पूर्वी लद्दाख की एलएसी (LAC) पर आमने-सामने है लेकिन इस तनाव के बीच अमेरिका का भारत के समर्थन में एक बड़ा बयान सामने आया है। अमेरिका ने भारत के साथ अपने रिश्तों को मजबूत करने पर जोर दिया है। जिससे चीन को मिर्ची लग गई होगी। दरअसल अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ का शुक्रवार को एक बयान सामने आया है। इस बयान में माइक पोम्पिओ ने भारत से रिश्तों को मजबूत करने की बात कही है साथ ही, अमेरिकी विदेश मंत्री ने चीन को सख्त चेतावनी दी है। माइक पोम्पिओ ने भारत से घनिष्ठ संबंधों का आग्रह किया है।

शुक्रवार को भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्रियों के बीच एक बैठक हुई। इस बैठक के बारे में बताते हुए अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ ने कहा कि उन्हें संयुक्त राज्य अमेरिका का अपना सहयोगी और इस लड़ाई में भागीदारी बनाने की आवश्यकता है। पोम्पिओ ने रेडियो जॉकी लैर ओ’कॉनर को बताया कि, ‘चीन ने अब उत्तर में भारत के खिलाफ बड़ी ताकतों को इकट्ठा करना शुरू कर दिया है। दुनिया जाग गई है। धारा बदल रही है और राष्ट्रपति ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिका ने अब एक गठबंधन बनाया है जो इस खतरे को पीछे ढकेलेगा।’

बता दें कि अब टोक्यो बैठक के बाद विदेश मंत्री माइक पोम्पियो भारतीय समकक्षों के साथ वार्षिक वार्ता करेंगे। ये वार्ता नई दिल्ली में होगी। इसके लिए पोम्पिओ रक्षा सचिव मार्क ओशो के साथ दिल्ली आएं। विदेश विभाग के उपसचिव स्टीफन बेजगन भी बैठक की तैयारी के लिए अगले सप्ताह भारत की यात्रा करेंगे। इन बैठकों से माना जा रहा है कि यह दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतांत्रिक देशों के बीच कूटनीति की सुगबुगाहट है।

ये भी पढ़ें:-चीन को सबक सिखाने के लिए भारत का ये तगड़ा प्लान, खौफ में आया ड्रैगन, नहीं माना तो अब खैर नहीं