LAC पर होने वाला है कुछ बड़ा! भारतीय सेना ने तैनात की खतरनाक मिसाइल

1818

भारत और चीन के बीच पिछले तीन तीन महीनों से जारी लद्दाख सीमा विवाद अभी भी तनाव की स्थिति में है। चीन के दोगलेपन के सामने आने के बाद भारतीय सेना ने भी अपनी कमर कस ली है। इस बीच खबर आ रही है कि चीनी हेलीकॉप्टरों की लगातार बढ़ रही गतिविधियों को देखते हुए भारतीय सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा(LAC) पर अपने हथियार लैस जवानों को तैनात कर दिया है। सूत्रों के अनुसार इन मिसाइलों को तब तैनात किया जाता है, जब सीमा पर स्थिति बिगड़ने के हालात में हो। वहीं सेना द्वारा उठाए गए इस कदम से ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि चीनी सीमा पर जरूर कुछ बड़ा होने जा रहा है। इसलिए भारत ने अपने हथियार लैस मिसाइलों को (LAC) पर तैनात किया है। बता दें कि यह मिसाइलें कंधे पर रखकर हवा में वार करने में काफी सक्षम होती हैं, इस एक मिसाइल के वार से दूर-दूर तक तबाही जैसा मंजर बन जाता है। बताया जा रहा है कि युद्ध के माहौल में यह मिसाइल दुश्मन को खौफ में डालने का दम भरती हैं।

ये भी पढ़ें:-ये हैं राफेल की 10 खूबियां..जो बनाता है इसको सबसे ताकतवर..3 करोड़ का लगा लेजर बम!

रक्षा सूत्रों ने बताया कि रूसी मूल के एयर डिफेंस सिस्टम का इस्तेमाल भारतीय थल सेना और वायु सेना दोनों द्वारा किया जाता है और इसका उपयोग तब होता है, जब दुश्मन के लड़ाकू जेट या हेलीकॉप्टर हमारी सीमा या फिर जहां जवान तैनात हैं, उसके करीब आते हैं।

बताया जा रहा है कि पूर्वोत्तर राज्यों के विपरीत लिंज एयरबेस मुख्य रूप से एक हेलीकॉप्टर बेस है और चीन ने उन क्षेत्रों में अपनी निगरानी गतिविधियों को बढ़ाने के लिए वहां हेलीपैड का एक नेटवर्क भी बनाया है।

इसलिए भारत की ओर से दुश्मन की हवाई आवाजाही पर नजर रखने के लिए रडार और सतह से लेकर हवाई मिसाइल सिस्टम तक की तैनाती की गई है, इतना ही नहीं भारतीय वायु सेना ने अपने चिनूक, अपाचे जैसे लड़ाकू विमानों को भी

LAC पार के इलाकों पर आसमानी निगहबानी के लिए लगाया हुआ है, जो दुश्मन की हर गतिविधियों पर चील की तरह नजर बनाए हुए हैं।

ये भी पढ़ें:-भारत ने दी चीन को चेतावनी, ड्रैगन को हर मोर्चे पर जवाब देने की हुई तैयारी