अरुण जेटली के निधन के बाद डॉक्टर्स ने बताई मौत की असली वजह

0
493
अरुण जेटली
Loading...

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटल लंबे समय से कई बीमारियों से जूझ रहे थे। अरुण जी गंभीर बीमारियों के चपेट में आ चुके थे। उन्हें डायबिटीज, मोटापा, गुर्दा, कैंसर, पेट और फेफड़े से जुड़े रोगों का उन्होंने डटकर सामना किया। इन बीमारियों का सामना करते हुए उन्होंने दम तोड़ दिया। दिल्ली के एम्स में पूर्व वित्त मंत्री ने दम तोड़ा डॉक्टर्स ने बताया कि निधन के 12 घंटों के भीतर उन्हें दो बार हार्ट अटैक भी आया।

डॉक्टर्स ने बताया कि आंतो में रक्तस्त्राव होने के बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। बता दें कि साल 2014 में जेटली ने एम्स में गैस्ट्रो यानि नाम का पेट से जुड़ा एक ऑपरेशन कराया था। इस ऑपरेशन के बाद जेटली जी का वजह काफी कम हो गया था। अब क्योंकि उन्हें डायबिटीज भी थी।

डॉक्टर्स ने उन्हें स्वास्थय को लेकर सतर्कता बरतने की सलाह दी थी। जेटली संतुलित आहार का ही सेवन किया करते थे। वो सात्विक भोजन का सेवन करते थे। कार्ययालय में अभी उनका टिफन घर से बनकर आता था। लेकिन आने वाले समय में जेटली की तबीयत बिगड़ती चली गई। जांच में डॉक्टर्स ने पाया कि उनके फेफड़े में एक प्रकार का कैंसर है। इसके बाद वो जनवरी महीने में न्यूयॉर्क के डॉक्टरों से ऑपरेशन भी कराया। इसके बाद मानों जेटली की सेहत में गिरावट आती चली गई। 9 अगस्त को जेटली जी को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया। लंबे समय तक बीमारियों से जुझने के बाद 24 अगस्त के दिन उन्होंने आखिरी सांस ली। राजनीति का एक कद्दावर नेता हमारा साथ छोड़ गया।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here